MP Corona Update : 100 पार एक्टिव केस, आज 8 नए पॉजिटिव, इन जिलों ने बढ़ाई चिंता

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण की दर वर्तमान में मात्र 0.01 फीसदी है

mp corona update

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश में कोरोना (MP Corona Update) की रफ्तार कम होने का नाम नहीं ले रही है। आज सोमवार को फिर 8 नए कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए है, इनमें से 5 मामले सिंगरौली जिले के है। 3 दिन में यहां 6 केस सामने आ चुके हैं। वहीं विदिशा, झाबुआ और राजगढ़ में 8 नए केस मिले।  जिसके बाद एक्टिव केसों की संख्या 107 हो गई है। वर्तमान में संक्रमण दर 0.01 फीसदी और रिकवरी रेट 98.60% है। पिछले 3 दिन में मध्यप्रदेश में 20 नए केस मिल चुके हैं। इनमें 4 छोटे जिले सिंगरौली, विदिशा, राजगढ़ और झाबुआ के 14 केस है। इसके साथ ही भोपाल-इंदौर के बाद जबलपुर और राजगढ़ जिले चिंता का विषय बने हुए हैं।

यह भी पढ़े.. Good News : कर्मचारियों की जल्द बढ़ सकती है 300 प्रतिशत पेंशन, ऐसे समझे पूरा गणित

आज मीडिया को कोरोना की जानकारी देते हुए मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा (Home Minister Narottam Mishra) ने बताया कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण की दर वर्तमान में मात्र 0.01 फीसदी है और स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है। पिछले 24 घंटे में कोरोना के सिर्फ 8 नए केस आए हैं। प्रदेश में कुल एक्टिव केस 107 और रिकवरी रेट 98.60% है। प्रदेश में कल कोरोना के 61,515 टेस्ट हुए हैं। मिश्रा ने आगे कहा कि मप्र सरकार डेंगू को लेकर सतर्क और सजग है। डेंगू के लार्वा को नष्ट करने के लिए प्रदेश में बड़े पैमाने पर अभियान चलाया जा रहा है।डेंगू के मरीजों का इलाज आयुष्मान योजना के तहत निजी अस्पतालों में भी मुफ्त में किया जा रहा है।

यह भी पढ़े.. आगामी चुनावों से पहले शिवराज सरकार ने खेला बड़ा मास्टर स्ट्रोक, क्या मिलेगा फायदा?

बीते 10-12 दिनों की बात करें तो भोपाल, इंदौर, ग्वालियर, रतलाम, उज्जैन, जबलपुर सहित राजगढ़, बैतूल, निमाड़ी, रायसेन जैसे छोटे जिले में भी संक्रमण की रफ्तार में तेजी देखी जा रही है।इसको लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) चिंता जता चुके है और सभी से वैक्सीन लगवाने की अपील भी कर रहे है। वही चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग भी कह चुके है मप्र सरकार (MP Government) कोशिश कर रही है कि प्रदेश में तीसरी लहर न आए, इसलिए सभी कोविड प्रोटोकॉल का पालन करें। साथ ही वैक्सीन के दोनों डोज खुद भी लगवाए और दूसरों को भी प्रेरित करें।