MP Corona Update : 5 दिन में 51 नए मामले, 14 फिर पॉजिटिव, इन जिलों ने बढ़ाई चिंता

इनमें इंदौर में 9, भोपाल में 3 और पन्ना 2 नए केस मिले है।

mp corona

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस (MP Corona Update) की रफ्तार एक बार फिर तेजी से बढ़ रही है।4 अक्टूबर को 14 नए कोरोना पॉजिटिव सामने आए है। इनमें इंदौर में 9, भोपाल में 3 और पन्ना 2 नए केस मिले है, हालांकि 8 लोग स्वस्थ होकर भी घर लौटे। जिसके बाद एक्टिव केसों की संख्या 123  पहुंच गई है।वही 52079 जांचे की गई है।वहीं रिकवरी रेट 98.56% और पॉजिटिविटी रेट 0.02% है।वही आज 5 अक्टूबर को 9 नए मामले आए है।हैरानी की बात ये है कि इंदौर के 9 पॉजिटिव में 6 महू सैन्य परिवार के लोग और 3 खंडवा के रहने वाले है, जिसमें एक बच्चा भी शामिल है।

यह भी पढ़े.. EPFO कर्मचारियों के लिए PF खाते से जुड़ी काम की खबर, जानें डिटेल्स

इतना ही नहीं प्रदेश में पांच दिनों में 11 जिलों में 51 नए संक्रमित हुए हैं। इसमें सबसे ज्यादा इंदौर में 18, भोपाल में 11, खंडवा में 6, जबलपुर, शिवपुरी और बालाघाट 3-3, पन्ना-सागर में 2-2 एवं रतलाम, शहडोल, छतरपुर में 1-1 संक्रमित मिला है।गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण नियंत्रण में है। पिछले 24 घंटे में कोरोना के सिर्फ 10 नए केस आए हैं जिसमें 6 भोपाल के हैं जबकि 4 लोग स्वस्थ होकर घर गए हैं। प्रदेश में कोरोना संक्रमण दर मात्र 0.02 फीसदी बची है जबकि रिकवरी रेट 98.60% है। प्रदेश में कल कोरोना के 52,265 टेस्ट हुए है।

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो ICMR ने मध्य प्रदेश समेत 9 राज्यों में कोरोना की तीसरी लहर को लेकर अलर्ट जारी किया है। स्वास्थ्य विभाग और केंद्र सरकार से कहा गया है कि आने वाले 8 हफ्ते राज्य के लिए बेहद संवेदनशील है, इससे पीक का पता लग सकता है।वर्तमान में मिजोरम की संक्रमण दर 25.1%, हरियाणा की 19.1%, गुजरात की 16.9%, झारखंड 14.3%, गोवा 7.3%, हिमाचल 3.5%, मध्यप्रदेश 2.9%, तमिलनाडु 0.9% और पश्चिम बंगाल 0.9% संक्रमण दर के साथ अलर्ट पर है।

यह भी पढ़े.. MP Weather : मानसून की विदाई जल्द, इन जिलों में बारिश और बिजली गिरने के आसार

इससे पहले स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी (Health Minister Dr. Prabhuram Choudhary) ने कहा कि ग्वालियर, श्योपुर, पन्ना, अनूपपुर, बालाघाट जिलों के लिए पाँच-पाँच और अलीराजपुर जिले के लिए 3 कोविड वैक्सीनेशन मोबाइल वेन भेजी गई हैं। इन मोबाइल वेन में एक वैक्सीनेटर और एक वेरीफायर रहेगा। वेन में ही वैक्सीन बाइल रखे जाएँगे। यह वैक्सीन वेन जिले में उस हर उस स्थान पर जाएँगी, जहाँ से लोग वैक्सीन लगवाने कोविड टीकाकरण केन्द्र नहीं पहुँच रहे हैं, ऐसे में प्रदेश के 100 प्रतिशत पात्र व्यक्तियों को इस वर्ष दिसंबर अंत तक कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लगाना हैं।

 

MP Corona Update : 5 दिन में 51 नए मामले, 14 फिर पॉजिटिव, इन जिलों ने बढ़ाई चिंता