चुनावी मैदान में डॉक्टर-इंजीनियरों की भरमार, 5वीं पास से लेकर डिग्रीधारी नेता लड़ रहे चुनाव

mp-election-middle-to-higher-studies-candidates-contest-election-in-madhya-pradesh-

भोपाल| मध्य प्रदेश के सियासी रण में इस बार मुकाबला रोचक है,  राजनीति में रहकर घाट घाट का पानी पी चुके दिग्गज नेता जहां मैदान में हैं, वहीं आइआइटीयन, डॉक्टर, इंजीनियर सहित रिटायर्ड आइपीएस और विंग कमांडर भी मैदान में ताल ठोक रहे हैं और अपनी जीत भी पक्की मान रहे हैं| कई उच्च शिक्षा प्राप्त कैंडिडेट मैदान में हैं तो वहीं माध्यमिक और दसवीं बारहवीं पास उम्मीदवार भी मैदान में हैं| 

भाजपा और कांग्रेस ने 7 डॉक्टरों, 27 इंजीनियरों, 63 वकीलों और 9 पीएचडी डिग्रीधारी नेताओं को प्रत्याशी बनाया है। दोनों प्रमुख दलों के 80 फीसदी उम्मीदवार उच्च शिक्षित हैं। वहीं आम आदमी पार्टी (आप) के 90 प्रतिशत प्रत्याशी उच्चशिक्षित हैं, इनमें इंजीनियर, वकील से लेकर एमबीए डिग्रीधारी शामिल हैं। बसपा और समाजवादी पार्टी ने भी पढ़े-लिखे नेताओं को मौका दिया है। इसके अलावा टीकमगढ़ से बसपा प्रत्याशी डॉ. विनोद राय एमडी, बीनागौद से निर्दलीय रश्मि सिंह एमबीबीएस और जावरा से निर्दलीय डॉ. हमीरसिंह राठौर एमबीबीएस और अंबाह से बसपा के सत्यप्रकाश सखरवार एलएलबी हैं। नरयावली से प्रदीप लारिया, ग्वालियर से जयभान सिंह पवैया, सारंगपुर से कुंवर कोठार, अशोक नगर से लड्डूराम कोरी, इंदौर ३ से आकाश विजयवर्गीय एमई (कारनेली मेलन यूनिवर्सिटी पिट्सबर्ग) इंजीनियर हैं। वहीं गोटेगांव से कैलाश जाटव आयुष चिकित्सक, पाटन से अजय विश्नोई विटनरी सर्जन और वारासिवनी से योगेंद्र निर्मल बीएएमएस हैं।

यह हैं पीएचडी 

चुनावी मैदान में आधा दर्जन से ज्यादा उम्मीदवार पीएचडी हैं,। इनमें अमरपाटन से कांग्रेस के राजेंद्र कुमार सिंह, दतिया से भाजपा के प्रत्याशी नरोत्तम मिश्र, सिरमौर से कांग्रेस के अरुणा तिवारी, सिरोंज से कांग्रेस प्रत्याशी मसर्रत शाहिद, सांवेर से भाजपा के राजेश सोनकर शामिल हैं, जबकि भोपाल के नरेला विधानसभसा महेंद्र सिंह चौहान ट्रिपल एमए के साथ, एलएलबी पीएचडीधारी हैं। हरदा से कांग्रेस के आरके दोगने, भाजपा के बागी एवं पूर्व मंत्री रामकृष्ण कुसमरिया एग्रीकल्चर से एमएमसी के साथ पीएचडी हैं। मनगवां की बसपा प्रत्याशी शीला त्यागी भी पीएचडी हैं।

कानून के जानकार 

कानून के जानकार भी राजनीति में दमदारी रखते हैं| बीजेपी से कानून के कई जानकार मैदान में हैं| छिंदवाड़ा से चौधरी चंद्रभान सिंह, कटंगी-केडी देशमुख, बिजावर: पुष्पेन्द्रनाथ पाठक, नीमच -दिलीपसिंह परिहार, सिवनी से दिनेश राय मुनमुन, इंदौर १: सुदर्शन गुप्ता, सिलवानी से रामपाल सिंह, सीधी से केदार शुक्ला, जबलपुर उत्तर- शरद जैन| वहीं कांग्रेस में कानून के जानकार हैं गुढ़ से सुंदरलाल तिवारी, आलोट से मनोज चावला, सिवनी से मोहन सिंह चंंदेल, इछावर से शैलेन्द्र पटेल, कुरवाई से सुभाष बोहत,राऊ से जीतू पटवारी, सांवेर से तुलसीराम सिलावट, अशोकनगर से जजपाल सिंह, सीधी से कमलेश्वर द्विवेदी, देवसर से वंशमणि वर्मा, सिंगरौली से रेनू शाह, मनगवां से विद्यावती पटेल| 

यहां दसवीं, बारहवीं पास

-रैगांव से बसपा प्रत्याशी ऊषा चौधरी 12वीं।

-आलोट से भाजपा के जितेन्द्र गेहलोत, कक्षा 10वीं।

-अमरवाड़ा विधानसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी कमलेश शाह दसवीं मैट्रिक उत्तीर्ण हैं।

-राजगढ़ से भाजपा के अमरसिंह १२वीं।

-खिलचीपुर के भाजपा के हजारीलाल दांगी 12वीं।

-आष्टा से भाजपा के रघुनाथ सिंह मालवीय हायर सेकंडरी फेल

-विदिशा से भाजपा प्रत्याशी मुकेश टंडन 10वीं।

-गंजबासौदा से भाजपा प्रत्याशी लीना जैन हायर सेकंडरी

-शमशाबाद से भाजपा प्रत्याशी राजश्री सिंह हायर सेकंडरी

-केवलारी विधानसभा चंद्रकला (बसपा) 10वीं।

-राजनगर सीट से कांग्रेस के विक्रम सिंह नातीराजा 10वीं।

यह हैं मिडल पास  

गुन्नौर से कांग्रेस प्रत्याशी शिवदयाल बागरी (8वीं)

-पवई से भाजपा उम्मीदवार प्रहलाद लोधी (8वीं)

-सारंगपुर से कांगे्रस की कला मालवीय (8वीं)

-मुंगावली से कांग्रेस के बृजेंद्र सिंह यादव (8वीं)

-चंदेरी से कांग्रेस के गोपाल सिंह चौहान  (8वीं)

-कटंगी से कांग्रेस प्रत्याशी टामलाल सहारे सातवीं और नीमच से कांगे्रस के सत्यनारायण पाटीदार पांचवीं पास हैं। बुरहानपुर से निर्दलीय प्रत्याशी पुष्करानंद महाराज छठवीं पास हैं।