MP : वैक्सीनेशन पर फतवा जारी, मुफ्ती ने कहा- सेहत की हिफाजत जरूरी

SDM जमाल खान का कहना है कि सामाजिक जागरूकता की खातिर फतवा लिया गया है। इसके साथ ही SDM खान ने बताया कि 2 हफ्ते बाद रमजान माह शुरू होने वाला है। इससे पहले ही अन्य बंधुओं के खातिर शहर के कई हिस्से में शिविर आयोजित किए जाएंगे।

vaccination
vaccination

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (madhya pradesh) में कोरोना (corona) के बढ़ते मामले के बाद वैक्सीनेशन (vaccination) की प्रक्रिया तेज कर दी गई है। इस मामले में वैक्सीनेशन को लेकर फतवा (fatwa) जारी किया गया है। फतवा एसडीएम (SDM) को जारी किया गया है। SDM ने इसके लिए बकायदा मस्जिद कमिटी में अर्जी दी थी।

दरअसल मामला राजधानी भोपाल का है। जहां मुस्लिम समाज में कोरोना वैक्सीन को लेकर कई तरह की गलतफहमी है दूर करने के लिए प्रशासन द्वारा फतवा की मांग की गई थी। इस मामले में SDM जमाल ख़ान (jamal khan) का कहना है कि बड़ी संख्या में मुस्लिम समाज वैक्सीनेशन के लिए आगे नहीं आ रहे हैं। जिसके बाद मुस्ताक अली नदवी, शहर मुफ्ती मोहम्मद अब्दुल कलाम कासमी सहित अन्य उलेमाओं ने मस्जिद कमेटी दफ्तर के सभी प्रशासकीय अधिकारी की मौजूदगी में वैक्सीन लगवाई। इसके साथ ही फतवा भी जारी किया गया।

Read More: आज से MP के 11 जिलों में LOCKDOWN प्रभावी, संक्रमण के बढ़ते मामले ने तोड़ा रिकॉर्ड

इसके बाद वैक्सीनेशन लगाने और मस्जिद कमेटी के उलेमाओं से एसडीएम खान ने पूछा कि टीका लगवाने के लिए शिरई हुक्म क्या है? जिसके जवाब में मुफ्ती अबुल कलाम कासमी ने कहा कि कोरोना का टीका लगवाने में कोई हर्ज नहीं है। सेहत की हिफाजत जरूरी है। वहीं एसडीएम ने अबुल कलाम कासमी से पूछा की सेहत के खातिर कोरोना टीका लगवाना कैसा है? जिसके जवाब में कासिम ने कहा कि इलाज कराना सुन्नत है। इलाज की खातिर टीका लगवाने में कोई समस्या नहीं है।

इस मामले में SDM जमाल खान का कहना है कि सामाजिक जागरूकता की खातिर फतवा लिया गया है। इसके साथ ही SDM खान ने बताया कि 2 हफ्ते बाद रमजान माह शुरू होने वाला है। इससे पहले ही अन्य बंधुओं के खातिर शहर के कई हिस्से में शिविर आयोजित किए जाएंगे। जहां प्रशासन के अधिकारी भी मौजूद रहेंगे। वही रमजान से पहले टीका लगवाने की व्यवस्था की जाएगी।

जमाल खान ने बताया कि शहर के 45 साल से अधिक उम्र के कर्मचारियों की सूची बनाने का काम मसाजिद कमिटी, मध्य प्रदेश वक्क बोर्ड में शुरू हो चुका है। संक्रमण से बचाने के लिए सभी को शिविर में टीका लगाया जाएगा। इसके साथ ही जमाल खान ने कहा कि पहला डोज लगाने के 28 दिन बाद दूसर डोज लेना होता है लेकिन मुस्लिम धर्म के लोगों को रमजान के पवित्र माह में दिक्कत हो सकती है। जिसके बाद रमजान में रोजा इफ्तार के बाद वैक्सीनेशन की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

corona