MP : सर्वदलीय बैठक पर संशय, गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा का सामने आया बड़ा बयान

नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) का कहना है कि यह बैक या रिवर्स कोरोना है, विधानसभा के 50 से ज़्यादा कर्मचारी कोरोना पीड़ित है। कुछ विधायकों के भी संक्रमित होने क़ी ख़बर है। सर्वदलीय बैठक कब होगी अभी तय नहीं।

narottam misdhra

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। 28 दिसंबर (28 December) को शुरु होने वाले मध्यप्रदेश विधानसभा (MP Legislative Assembly) के शीतकालीन सत्र (Winter Session) पर कोरोना का संकट गहराने लगा है। अबतक दर्जनों कर्मचारी और कई विधायक कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) आ चुके है, ऐसे में सत्र होगा या नहीं बड़ा सवाल बना हुआ है। इसी बीच मध्यप्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा (Home Minister Narottam Mishra) का बड़ा बयान सामने आया है।वही उन्होंने आज होने वाली सर्वदलीय बैठक के टलने के भी संकेत दिए है।

यह भी पढ़े.. गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा बोले, सरकार की कोशिश सत्र न टाला जाए, सर्वदलीय बैठक में होगा फैसला

नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) का कहना है कि यह बैक या रिवर्स कोरोना है, विधानसभा के 50 से ज़्यादा कर्मचारी कोरोना पीड़ित है। कुछ विधायकों के भी संक्रमित होने क़ी ख़बर है। सर्वदलीय बैठक कब होगी अभी तय नहीं।बैठक आज होगी या फ़िर कल लेकिन बैठक तो होगी।कोई आमंत्रण तो नहीं निकला था।

कांग्रेस द्वारा सवाल उठाए जाने पर नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि विधानसभा के सत्र को लेकर वो लोग सरकार की मंशा पर सवाल खड़े कर रहे हैं जिनके राज में विधानसभा की बैठक के बारे में सुप्रीम कोर्ट को निर्देश देना पड़ा था। कांग्रेस नेता आरोप लगाने से पहले अपने गिरेबां में भी तो झांकें।

यह भी पढ़े… Bhopal News: वीडियो वायरल होने पर DIG का एक्शन, पार्षद उम्मीदवार सिपाही को किया सस्पेंड

कांग्रेस पर अटैक

नरोत्तम मिश्रा भोपाल के मास्टर प्लान पर दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) के सवाल पर कहा कि ‘उनके चिरंजीव नगरीय प्रशासन मंत्री (Urban Administration Minister) थे, करने वाले होते तो पहले ही कार्रवाई कर लेते।वहीं यूथ कांग्रेस (MP Youth) के किसान स्वाभिमान मार्च पर कहा कि कानून की प्रतियां उनको दे देंगे, 15 महीने में अगर कुछ किया होता तो चार्टर वालों को ट्रैक्टर पर नहीं आना पड़ता, किसानों (Farmers) से झूठ बोला है और अब घड़ियाली आंसू बहा रहे हैं।

शरद पवार को अध्यक्ष बनाने पर बोले
वही शिवसेना (Shivsena) के NCP प्रमुख शरद पवार (Sharad Pawar) को यूपीए (UPA) का अध्यक्ष बनाए जाने की मांग पर नरोत्तम कांग्रेस में अब उसके सहयोगी दलों का भी भरोसा नहीं रहा। महात्मा गांधी जी ने सही कहा था कांग्रेस अपनी प्रासंगिकता खो चुकी है। इसे भंग कर देना चाहिए। सोनिया जी (Sonia Gandhi) और राहुल गांधी जी (Rahul Gandhi) को गांधी जी की नसीहत पर अब गंभीरता से विचार करना चाहिए।

बता दे कि आज रविवार को मध्यप्रदेश विधानसभा के 16 और कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इसके पहले दो विधायक योगेंद सिंह, और सुनीता पटेल की रिपोर्ट कोरोना पाॅजिटिव आई थी जबकि इंदौस से विधायक मालिनी लक्ष्मण सिंह गौड़ पहले से कोरोना पाॅजिटिव मिल चुकी है। विधानसभा के अब तक 50 कर्मचारी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। वहीं आज सुबह प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा समेत 40 और लोगों का कोरोना टेस्ट कराया गया है। निर्देशों के मुताबिक विधायकों को 72 घंटे पहले की टेस्ट रिपोर्ट दिखाने पर एंट्री मिलेगी, ऐसे में सत्र के टलने के आसार नजर आने लगे है।