Dr.Narottam Mishra
Dr.Narottam Mishra

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने विधानसभा सत्र को लेकर कहा कि परिस्थिति अनुसार सत्र चलाने का निर्णय लिया जाएगा। इस बार सत्र में बहुत से काम होने हैं। वहीं कांग्रेस पर तंज कसते हुए उन्होने कहा कि कांग्रेस एक डूबता जहाज जिसमें कोई बैठना नहीं चाहता है। वैसे भी कांग्रेस में एक को मनाओ तो दूजा रूठ जाता है। पंजाब को संभाला तो मणिपुर चला गया। राहुल बाबा ने कहा था जिसको जाना है चला जाए, इसीलिए तो अध्यक्ष सहित विधायक सब जा रहे हैं।

Bhopal : स्कूल खोलने पर आज शाम तक फैसला संभव, अवैध कॉलोनियों को लेकर प्रभारी मंत्री का बड़ा बयान

वहीं दिग्विजय सिंह द्वारा सीएम पद के लिए नाम बताए जाने पर नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि खुद की पार्टी संभाल नहीं पा रहे हैं और दिग्विजय सिंह जी हमारी पार्टी का मुख्यमंत्री तय कर रहे हैं। कमलनाथ पर निशाना साधते हुए उन्होने कहा कि कमलनाथ जी ने मीडिया के साथ पहली बार इस प्रकार का अभद्र व्यवहार नहीं किया है। अब मीडिया को सोचना है, जिस दिन मीडिया समझ लेगा उस दिन खेल खत्म।

नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि कांग्रेस कभी भी अनुसूचित जाति और जनजाति की हितैषी नहीं रही है। वह इन्हें सिर्फ वोट बैंक ही मानती रही है। यही कारण है कि शिव भानू सिंह सोलंकी को उपमुख्यमंत्री ही रखा। उन्हें कभी मुख्यमंत्री नहीं बनने दिया गया। उनके स्थान पर दिग्विजय सिंह स्वयं मुख्यमंत्री बन गए। अनुसूचित जाति-जनजाति के नेताओं को यह बात देर से समझ में आती है। जो इस प्रदेश का शास्त्र बिगाड़ कर चले गए वे कमलनाथ जी अर्थशास्त्र की बात कर रहे हैं। उन्होने कहा कि क्या आप कल्पना कर सकते हैं की दूध-घी से सींचने पर नीम मीठा हो सकता है। यदि नहीं तो फिर आप कैसे मान सकते हैं कि दिग्विजय सिंह हमारी तारीफ करेंगे। जब से नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री बने हैं तभी से कांग्रेस देश को बदनाम करने का कोई मौका नहीं छोड़ती है।

कोरोना को लेकर गृहमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री प्रतिदिन समीक्षा कर रहे हैं। पिछले 24 घंटों में सिर्फ 13 प्रकरण सामने आए हैं। 80 लोग बीमारी से ठीक हुए हैं। अब प्रदेश में 179 एक्टिव केस हैं और रिकवरी रेट लगभग 99% बना हुआ है। सरकार प्रतिदिन 70 हजार से अधिक की टेस्टिंग कर रही है।