मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की बड़ी घोषणा, बोले- मध्यप्रदेश छोड़ दो वरना…

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि सज्जनों के लिए फूल से ज्यादा कोमल हूं, लेकिन दुर्जनों के लिए वज्र से ज्यादा कठोर हूं। गुंडों, माफियाओं, बदमाशों, मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) छोड़ दो, नहीं तो मैं तुम्हें नहीं छोड़ूंगा।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। चौथी पारी में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) का सख्त रवैया देखने को मिल रहा है। वे आए दिन अधिकारियों-कर्मचारियों और मंत्रियों को चेताते हुए नजर आ रहे है वही माफियाओं को भी खुली चेतावनी देने से नहीं चूक रहे है।आज रविवार (Sunday) को सीहोर दौरे के दौरा फिर शिवराज ने अपनी बात को दोहराते हुए कहा कि गुंडों, माफियाओं, बदमाशों, मध्यप्रदेश छोड़ दो, नहीं तो मैं तुम्हें नहीं छोड़ूंगा।वही ऐलान करते हुए कहा कि दिसंबर 2006 के पहले के कब्जे है उन सबको पट्टे देने का काम किया जाएगा।

यह भी पढ़े.. विवादों में घिरा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का यह आदेश, वापस लेने की मांग

दरअसल, आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सीहोर ज़िले (Sehore district) के तहसील नसरुल्लागंज के ग्राम लाड़कुई में नवनिर्मित शासकीय महाविद्यालय (Government college) भवन का लोकार्पण किया और ग्राम भिलाई में जनजातीय भाई-बहनों को वनाधिकार पट्टों का वितरण किया। इस दौरान सभा को संबोधित करते हुए सीएम ने कहा कि सज्जनों के लिए फूल से ज्यादा कोमल हूं, लेकिन दुर्जनों के लिए वज्र से ज्यादा कठोर हूं। गुंडों, माफियाओं, बदमाशों, मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) छोड़ दो, नहीं तो मैं तुम्हें नहीं छोड़ूंगा।

शिवराज सिंह चौहान ने ऐलान करते हुए कहा कि ये जमीन-जंगल भगवान ने सबके लिए बनाए हैं। ये धरती, पानी-हवा सबके लिए हैं, और इसलिए आज पट्टे की सौगात देने आया हूं। जिनके दिसंबर 2006 के पहले के कब्जे है उन सबको पट्टे देने का काम किया जाएगा।लव जिहाद को लेकर शिवराज ने कहा कि कुछ लोग बाहर से आकर लालच और लोभ देकर धर्म परिवर्तन का कुचक्र चला रहे हैं। कुछ लोग हमरी बेटियों पर कुदृष्टि डाल रहे हैं।मैं उन सभी को चेतावनी देता हूँ, अगर गड़बड़ की तो कुचल दूंगा, कहीं के लायक नहीं छोडूंगा।

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि जबसे मैं पांव-पांव चला तब से आपने मेरा साथ दिया। मैं वचन देता हूं कि आपके विश्वास को कभी टूटने नहीं दूंगा, मेरे लिए तो जनता ही मेरी भगवान है।गरीब की थाली खाली नहीं रहेगी, सभी के लिए रोटी का इंतजाम, पढ़ाई की व्यवस्था की जाएगी। जितने लोग रह गये हैं सभी को 1 रुपये किलो गेहूं-चावल दिया जायेगा।

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मेरे जनजातीय बहनों और भाइयों, गरीबों के लिए ही तो सरकार (Government) होती है। मेरी सरकार आपके हितों की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध है। आपको पट्टा देकर जमीन का मालिक बनाऊंगा और सिंचाई की भी समुचित व्यवस्था करूंगा।मुझे यह कहते हुए गर्व है कि हमारे बारेला समाज के भाइयों को अगर किसी ने पट्टों का वितरण किया तो वो है बीजेपी (BJP)। मुझे आप सभी की ज़िंदगी बदलनी है, आपके बच्चों का भविष्य बनाना है।

यह भी पढ़े.. मप्र में रोजगार सृजन पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का बड़ा ऐलान

शिवराज सिंह ने कहा कि गरीबों के लिए रोटी, कपड़ा, मकान के साथ शिक्षा (Education), स्वास्थ्य सुविधाओं (Health facilities) और रोजगार (Employment) का इंतज़ाम हमने किया है। हमने महिला स्वसहायता समूहों के सशक्तिकरण (Empowerment) के लिए अनेक कदम उठाए हैं जिससे वे आत्मनिर्भर (Aatmnirbhar Madhya Pradesh)  बनी हैं।मेरे गरीब और जनजातीय भाई-बहनों, अब फसल बीमा (Crop Insurance) का मुआवजा और अन्य कल्याणकारी योजनाओं का भी लाभ आपको दिया जायेगा। आपको भी फलने-फूलने का हक है और मेरी सरकार आपके कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है।

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि आप मेरे लिए जनता नहीं, मेरा परिवार हैं।आप मेरे हृदय में बसते हैं।आपकी सेवा ही मेरे लिए भगवान की पूजा है। हमने खेतों तक नर्मदा (Narmada River) मैया का पानी पहुँचाया। किसी ने सोचा भी नहीं था कि यह संभव है लेकिन हमने करके दिखाया।हमने सड़कों (Road) का जाल बिछाया है इस क्षेत्र में और अब सिंचाई और पेयजल का जाल भी बिछा रहे हैं।