कम नही हो रही सिंधिया समर्थकों की मुश्किलें, अब इस पूर्व मंत्री पर लगे ये आरोप

भोपाल/रायसेन।दिनेश यादव।

मध्यप्रदेश(madhya pradesh) में कोरोना(corona) से बुरा हाल है यहां प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव(corona positive) मरीजों का आंकड़ा 2700 के पार पहुंच चुका है। वहीं प्रदेश में अब तक 145 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी हैं। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ(former chiefminister kmalnath) ने बीजेपी(BJP) सहित सीएम शिवराज सिंह चौहान(CM Shivraj singh chouhan) पर आरोप लगाया था कि शिवराज ने सत्ता की भूख के कारण प्रदेश में कोरोना का हॉटस्पॉट बना दिया मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल(bhopal) सहित मिनी मुंबई माने जाने वाले शहर इंदौर,वही उज्जैन जबलपुर खरगोन सहित कई शहरों में कोरोना मरीजों की बड़ी संख्या हो गई है।

कांग्रेस छोड़ बीजेपी में गए सिंधिया समर्थक पूर्व मंत्री प्रभुराम चौधरी ना तो अब विधायक हैं ना ही कोई जनप्रतिनिधि फिर भी वह कोरोना काल में अपनी आने वाली जमीन को तलाश रहे जभी तो सांची विधानसभा से पूर्व मंत्री रहे प्रभुराम चौधरी पर लॉक डाउन उल्लंघन का आरोप लगा है। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से लगे रायसेन में ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थक पूर्व शिक्षा मंत्री प्रभुराम चौधरी पर लॉक डाउन उल्लंघन का आरोप लगा है कांग्रेस नेता संदीप मालवीय ने इसकी ऑनलाइन शिकायत कलेक्टर से की है कांग्रेस नेता का कहना है कि रेड जोन घोषित होने के बावजूद भी सिंधिया समर्थक पूर्व मंत्री प्रभुराम चौधरी भोपाल से रायसेन आना-जाना कर रहे हैं।

इतना ही नहीं कृषि मंडियों में जाकर सोशल डिस्टेंस का मजाक बनाकर बड़ी संख्या में लोगों के बीच पहुंचकर भीड़ एकत्रित करवा रहे हैं इससे कोरोना संक्रमित वायरस फैलने की आशंका बनी हुई है रायसेन में भी पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा 55 के पार है कुछ लोगो की कोरोना से मौत भी हो गई है जिसको लेकर लॉक डाउन उल्लंघन की पूर्व मंत्री चौधरी के खिलाफ शिकायत कांग्रेस नेता मालवीय द्वारा की गई है शायद सिंधिया समर्थक पूर्व मंत्री प्रभुराम चौधरी का यह सोचना होगा कि यह सोचकर आए थे की कांग्रेस छोड़ने पर उन्हें बीजेपी में कोई बढ़िया मंत्री पद मिलेगा लेकिन इस कोरोना काल के कारण वह अब ना घर के रहे न घाट के ऐसे में अगर इस लॉक डाउन में बो शांत बैठे रहे तो हो सकता है आगामी उपचुनाव में जनता उन्हें घर में ना बिठा दे। अब देखना होगा कि इस मामले में सिंधिया समर्थक पूर्व मंत्री प्रभुराम चौधरी पर क्या कार्रवाई होती है।