भोपाल। मध्य प्रदेश कांग्रेस में सियासी उठापटक लगातार जारी है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के दावेदारों में शामिल ज्योतिरादित्य सिंधिया के नाम को लेकर दिल्ली में विचार मंथन चल रहा है। इस बीच दिल्ली से बड़ी खबर आ रही है कि सिंधिया का ग्वालियर-शिवपुरी का दौरा रद्द हो गया है। दौरा क्यों रद्द हुआ इसको लेकर अभी तक प्रामाणिक तौर पर कुछ नहीं कहा गया है| वहीं सूत्रों के मुताबिक हाईकमान के निर्देश के बाद सिंधिया का मप्र दौरा टल गया है|इसे पीसीसी चीफ को लेकर चल रही कवायद से जोड़ कर देखा जा रहा है।  चर्चा है पीसीसी चीफ को लेकर अंतिम सहमति बनाने की कोशिश चल रही है, संभावना है जल्द ही नाम का एलान हो सकता है, ऐसे में इस दौड़ में सबसे आगे चल रहे सिंधिया का नाम एक बार फिर चर्चा में आ गया है| 

सूत्रों के मुताबिक, सिंधिया मध्य प्रदेश के दौरे पर आने वाले थे जहां वे ग्वालियर में ग्वालियर-शिवपुरी के जिला अध्यक्ष, ब्लॉक अध्यक्षों से चर्चा करने वाले थे| इस बीच उनका दौरा टल गया है| मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली में सिंधिया के नाम को लेकर चर्चा ज़ोरों पर है। पीसीसी चीफ की रेस में कई नेता शामिल हैं लेकिन प्रबल दावेदारी सिंधिया की ओर से जताई जा रही है। कयास लगाए जा रहे हैं हाईकमान द्वारा सिंधिया के नाम पर दूसरे नेताओं को मनाने की कवायद जारी है। चर्चा है कि पीसीसी चीफ के नाम का ऐलान कभी भी हो सकता है। 

मध्य प्रदेश कांग्रेस में गुटबाजी हावी है। अलग अलग खेमे एक दूसरे पर समय समय पर हमलावर होते रहते हैं। यही बड़ा कारण है कि प्रदेश में अब तक प्रदेश अध्यक्ष के नाम पर हाईकमान एकमत नहीं हो पा रहा है। इधर, सिंधिया की भी प्रेशर पॉलिटिक्स जारी है। उनके समर्थक मंत्री लगातार उनको प्रदेश अध्यक्ष बनाने की बात करते आए हैं। लेकिन अब सिंधिया को लेकर जल्द फैसला होने संभावना है|  सूत्रों का कहना है कि दिल्ली में कई दिग्गज नेता उनके नाम पर सहमत भी हैं। क्योंकि लंबे समय से सिंधिया को प्रदेश की सियासत से दूर रखा गया है। अगर अब उनकी उपेक्षा की तो पार्टी को बड़े पैमाने पर खामियाज़ा भी भुगतना पड़ सकता है। सीएम कमलनाथ दुबई दौरे पर जाने वाले हैं उससे पहले वे दिल्ली में राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गाँधी से मुलाकात कर सकते हैं|