शिवराज ने फिर दी सरकार को चेतावनी बोले- ‘धैर्य की परीक्षा ना लें ठप कर देंगे एमपी’

shivraj-again-warning-to-kamalnth

भोपाल। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लगातार कमलनाथ सरकार पर निशाना साढ़े हुए हैं। मंगलवार को उन्होंने शिवपुरी जिले की पिछोर विधानभा में जनसभा की। शिवराज,पिछोर में अनशन पर बैठे बीजेपी नेता से मिलने पहुंचे थे| इस दौरान उन्होंने सरकार को जमकर खरी खोटी सुनाई। उन्होंने कहा कि अगर मेरे किसी भी कार्यकर्ताओं पर उंगली उठी या फिर उनके खिलाफ फर्जी केस बनाया गया तो वह एमपी ठप कर देंगे। विधानसभा चुनाव में हार के बाद शिवराज सिंह चौहान प्रदेश भर में रैली और जनसभाएं कर कांग्रेस सरकार की एक महीने की नाकामियां गिनवा रहे हैं। 

शिवराज ने कहा कि मैं जनता की लड़ाई लड़ने निकला हूं, आपके हक की लड़ाई लड़ूंगा। मेरी दो ही मांग है कि झूठे मुकदमें वापस लो और नए झूठे मुकदमें नहीं बनने चाहिए। आज दुनिया बहुत बदल गई है। मीडिया है, सोशल मीडिया है, जनता है, लोकतंत्र में तानाशाही नहीं चलेगी। जुल्म करने वालों जुल्म का सूरज लाख चढ़े, लेकिन शाम को ढलता है। रात तुम्हारी है, लेकिन सुबह हमारी होगी। शासन-प्रशासन सुन ले, अगर आम नागरिकों पर अत्याचार किए जाएंगे, जुल्म ढाए जाएंगे तो मैं शांत नहीं बैठूँगा। मैं पूरी ताकत से उनके हक़ की लड़ाई लड़ूँगा। मेरा जनता से भी आग्रह है कि लोकतंत्र की मर्यादाएँ लांघने वालों व अत्याचार करने वालों का विरोध करें। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने वचन दिया था कि 2 लाख तक हर किसान का कर्ज माफ होगा। अब रंग-रंग के फॉर्म भरवाकर कांग्रेस रंग बदल रही है। केवल आवेदन भरवाये जा रहे हैं। कोई किन्तु-परन्तु नहीं चलेगा, सबका कर्ज माफ करना होगा। 

गौरतलब है कि पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान लगतार प्रदेश के दौरे पर किसानों से मुलाकात कर रहे हैं। वह सरकार द्वारा किए गए वादों की हकीकत जानने के लिए भेंट कर रहे हैं। लेकिन उनके निशाने लगातार कमलनाथ सरकार बनी है। इससे पहले उन्होंने राजधानी भोपाल में बिजली बिल ज्यादा आने पर जनता से अपील की थी कि वह बिजली न भरे अगर 200 रुपए से अधिक आए। अब उन्होंने पिछोर में सरकार को एमपी ठप करने की चेततावनी दी है।