बेटे-बेटियों की योजनाएं फिर शुरू नहीं की तो सड़कों पर लड़ाई लड़ेंगे: शिवराज

 भोपाल। सरकार के खिलाफ भाजपा की लड़ाई बाल दिवस पर भी जारी रही। भोपाल के रोशनपुरा चौराहे पर आयोजित कार्यक्रम में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कमलनाथ सरकार पर जमकर बरसे। इस दौरान बच्चे हाथों में संदेश लिखी तख्तियां लिए हुए दिखाई दिए।

बच्चों को संबोधित करते हुए शिवराज ने सरकार पर कई आरोप लगाए, उन्होंने कहा मेने बेटे बेटियों के लिए कई योजनाएं शुरू की थी लेकिन इस सरकार ने उन्हें बन्द कर दिया। इस दौरान पूर्व सीएम शिवराज ने प्रेस वार्ता कर कहा स्कूल दूर होने के कारण बेटियां पढ़ाई छोड़ने पर मजबूर हो रही थीं, तो मैंने योजना बनाकर बेटियों और बाद में बेटों को भी साइकिल दी, लेकिन कमलनाथ,  सरकार ने इस योजना को बंद कर दिया। हमने सरकारी या प्राइवेट कॉलेज के 12वीं में 70% से अधिक नंबर लाने वाले बच्चों को लैपटॉप देने का फैसला किया था, लेकिन कमलनाथ सरकार ने इस योजना को भी बंद कर दिया। एक-एक कर कमलनाथ ने मेरे बच्चों के कल्याण की योजना बंद कर दी। इसलिए आज बाल दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्रीजी से कहना चाहते हैं कि बेटा-बेटियों के कल्याण की योजनाओं को पुन: प्रारम्भ कीजिए। यदि फिर योजनाओं को शुरू नहीं किया, तो सड़कों पर लड़ाई लड़ेंगे

उन्होंने कहा प्रदेश के बच्चों और बेटे-बेटियों के कल्याण की योजनाओं को कमलनाथ सरकार ने बंद कर दिया है। यदि कमलनाथ सरकार ने इन योजनाओं को पुन: प्रारम्भ नहीं किया, तो सड़कों पर हम आंदोलन करने के लिए बाध्य होंगे। हम मेधावी बच्चों को लैपटॉप देते थे, वह सरकार ने बंद कर दिया। इन्होंने कहा था कि बेटियों को स्कूटी देंगे, स्कूटी तो छोड़िए, हम साइकिल देते थे, वह भी इस सरकार ने बंद कर दिया। हम फीस भरवाते थे, वह भी देना बंद कर दिया। ऐसा कर सरकार बच्चों के साथ अन्याय कर रही है।

Image

Image

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here