मध्य प्रदेश के संविदा कर्मचारियों को शिवराज सरकार का तोहफा, आदेश जारी

राज्य सरकार की तरफ से जारी आदेश में बताया कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन ने संविदा कर्मचारियों की मांग के आधार पर संविदा कर्मचारियों का मासिक वेतन बढ़ाने का फैसला लिया गया।

संविदा कर्मचारियों

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। आज सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse 2021) के दिन मध्य प्रदेश के संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों को शिवराज सरकार ने बड़ा तोहफा दिया है। शिवराज सरकार ने संविदा कर्मचारियों को विशेष प्रोत्साहन भत्ता दिया है। इसके तहत अब स्वास्थ्य विभाग (health Department) के संविदाकर्मियों को हर महीने 2 से 3 हजार रुपए मिलेंगे। इसका फायदा मध्य प्रदेश के 19 हजार संविदा कर्मचारियों को मिलेगा।इस संबंध में NHM की संचालक छवि भारद्वाज ने गुरुवार को आदेश जारी कर दिए है।

यह भी पढ़े.. MP Weather: मप्र में 6 दिन पहले मानसून धमाकेदार एंट्री, इन जिलों में भारी बारिश का अलर्ट

दरअसल, शिवराज सरकार (Shivraj Government) के निर्देश पर नेशनल हेल्थ मिशन (NHM) ने स्वास्थ्य विभाग के संविदा कर्मचारियों को प्रोत्साहन भत्ते के रूप में वेतन में 2 से 3 हजार की बढ़ोतरी की है। इसके अनुसार टेक्निकल और मैनेजेरियल कैडर को विशेष प्रोत्साहन भत्ता दिया जाएगा।प्रोत्साहन भत्ता मिलने से कर्मचारियों के मासिक मानदेय में वृद्धि हो जाएगी।इसका फायदा मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के 13 हजार कर्मचारियों को फायदा मिलेगा।

आदेश के मुताबिक, संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों के वेतन में 3000 से 2000 तक की वृद्धि की गई है। शिवराज सरकार ने तकनीकी कैडर, प्रबंधकीय कैडर, राज्य कैडर के सभी संबंधित कर्मचारियों का ग्रेड पै के हिसाब से वेतन बढ़ाया गया है। राज्य सरकार (MP Government) की तरफ से जारी आदेश में बताया कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन ने संविदा कर्मचारियों की मांग के आधार पर संविदा कर्मचारियों का मासिक वेतन बढ़ाने का फैसला लिया गया है, जिसमें सभी प्रकार के भत्ते भी शामिल होंगे।

यह भी पढ़े.. AIIMS की रिपोर्ट में खुलासा- आखिर कोविशील्ड या कोवैक्सीन के बाद भी क्यों हो रहे लोग संक्रमित

बता दे कि बीते दिनों संविदा कर्मचारी अधिकारी महासंघ ने मांग की थी 5 जून 2018 की नीति के अनुसार वेतन में बढ़ोतरी की जाए। इसको लेकर कर्मचारी हड़ताल पर चले गए थे और सीएम शिवराज सिंह चौहान, चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग और स्वास्थ्य मंत्री प्रभु राम चौधरी को पत्र लिखकर 90% वेतनमान देने की मांग की थी। इसके बाद शिवराज सरकार ने मांगों पर विचार करने का आश्वासन दिया था, इसके बाद 15 जून तक संविदा कर्मचारियों ने हड़ताल को स्थगित कर दिया गया था, लेकिन हडताल फिर से शुरु हो इसके पहले ही सरकार ने मांग को पूरा कर दिया है।

संविदा कर्मचारियों