गुपकार गठबंधन पर बवाल : कांग्रेस पर भड़के शिवराज सिंह, सोनिया गांधी पर दागे सवाल

शिवराज ने कहा कि मैडम सोनिया गांधी जवाब दें, क्यों कांग्रेस के नेता #Article370 समाप्त होने का विरोध कर रहे हैं? देशविरोधी ताकतों के साथ कांग्रेस हमेशा क्यों खड़ी होती है?

shivraj singh chouhaan

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) में बने गुपकार गठबंधन (Gupkaar alliance) में कांग्रेस (Congress) के शामिल होने के बाद देशभर की सियासत गर्मा गई है। दिल्ली (Delhi) से लेकर मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) तक प्रतिक्रियाओं का दौर जारी है, अब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) का बड़ा बयान सामने आया है। शिवराज ने कांग्रेस पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) पर एक के बाद एक कई सवाल दागे है।

आज भोपाल में आयोजित प्रेसवार्ता में शिवराज ने कहा कि मैडम सोनिया गांधी जवाब दें, क्यों कांग्रेस के नेता #Article370 समाप्त होने का विरोध कर रहे हैं? देशविरोधी ताकतों के साथ कांग्रेस हमेशा क्यों खड़ी होती है? कांग्रेस गुपकार अलायंस के साथ है या नहीं, यह स्पष्ट करें। जो ऐतिहासिक भूल पंडित जवाहरलाल नेहरू (Pandit jawaharlal nehru) ने कश्मीर को लेकर की थी, बीजेपी (BJP) ने उसे सुधारने का प्रण लिया था।यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने धारा 370 को समाप्त कर उस प्रण को पूरा किया।

शिवराज ने कहा कि कांग्रेस ने जिस गुपकार गैंग के साथ हाथ मिलाया है, वह वास्तव में गुप्तचर गैंग है। ये पाकिस्तान और चीन के गुप्तचर हैं। कांग्रेस  (Congress) ने तो हमेशा ही देशविरोधी ताकतों का साथ दिया है। गुपकार गैंग के लोगों ने ज़िंदगी भर जम्मू-कश्मीर को लूटा है।अब्दुलाओं, मुफ्तियों और एक गांधी परिवार की लूट की दुकान #Article370 की समाप्ति के बाद बंद हो गई थी।अब ये फिर से जम्मू-कश्मीर की हवा में ज़हर घोलने का प्रयास कर रहे हैं।

शिवराज ने कहा कि पंडित नेहरू जी ने कश्मीर में धारा 370 लागू करवाई। पंडित नेहरू जी ने एक देश में दो निशान, दो विधान और दो प्रधान की व्यवस्था की जिससे कश्मीर भारत से समरस नहीं हुआ।पंडित नेहरू जी कश्मीर मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र संघ में ले गए और जनमत संग्रह तक की बात कही। जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला (Farooq Abdullah) ने कहा कि कांग्रेस पार्टी गुपकार घोषणापत्र गठबंधन का हिस्सा है और ज़िला विकास परिषद के चुनाव कांग्रेस गुपकार गठबंधन के साथ लड़ेगी।धारा 370 को लेकर कांग्रेस का क्या दृष्टिकोण है, मैडम सोनिया गांधी स्पष्ट करें!

जल्दी सत्ता प्राप्त करने नेहरू ने देश विभाजन स्वीकार किया
राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि, राहुल गांधी वह नेता हैं जिन्होंने धारा 370 को असंवैधानिक संविधान के खिलाफ कहा था और देश की सुरक्षा को खतरा बता दिया था। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह चीज कांग्रेस पहली बार नहीं कह रही है, देश की आजादी के समय से ही कांग्रेस यह कहते आ रही है। जवाहरलाल नेहरू ने सत्ता जल्दी प्राप्त करने की चाह में देश के विभाजन को स्वीकार किया था। जवाहरलाल नेहरू ने देश का विभाजन करवाया था। मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा कि वह जवाहरलाल नेहरू थे जिन्होंने जम्मू कश्मीर में धारा 370 लगवाई थी, एक देश में दो निशान दो विधान दो प्रधान की व्यवस्था करके कश्मीर को भारत से समरस नहीं होने दिया था। उन्होंने कहा कि यह वह पंडित नेहरू ही थे जिन्होंने कश्मीर के मामले को संयुक्त राष्ट्र संघ में ले जाकर जनमत संग्रह तक की बात कही थी। मुख्यमंत्री ने कहा की उस अलगाववादी सोच से कांग्रेस आज तक नहीं उभरी है।

गुपकार संगठन या गुप्तचर संगठन
गुपकार संगठन पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि, इसे गुपकार संगठन कहूं या गुप्तचर संगठन। उन्होंने कहा कि यह तो चीन और पाकिस्तान के लिए जासूसी करने वाले लोग हैं। यह कोई गठबंधन नहीं है। मुख्यमंत्री ने आरोप लगाते हुए कहा कि कानून की आड़ में गुपकार संगठन के नेताओं ने 25 हज़ार करोड रुपए से ज्यादा की जमीन जम्मू कश्मीर में हड़प ली है।

इनके बच्चे तो विदेश में पढ़ते है
मुख्यमंत्री ने कहा कि नेशनल कांफ्रेंस हो या पीडीपी हो इनके बच्चे तो विदेशों में पढ़ते रहे और कश्मीरी बेटे बेटियों के हाथों में ईन लोगों ने पत्थर थम दिए है। उन्होंने कहा कि इन लोगों ने विरसता पूर्ण जीवन जिया। कश्मीर को लूटने की आजादी इन लोगों को थी और जम्मू कश्मीर को अंधेरे में धकेल दिया। उन्होंने कहा कि आज यह सब लोग इकट्ठे होकर देशद्रोह की भाषा बोल रहे हैं और कांग्रेस पार्टी भी इन लोगों के साथ शामिल है और इनके साथ खड़ी है।

कांग्रेस गुपकार का हिस्सा पहले भी थी और आज भी
मुख्यमंत्री ने कहा कि कश्मीर के एक कांग्रेस नेता ने विवादित बयान देते हुए कहा था कि अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में जीत हासिल करने वाले जो बाइडन से जम्मू कश्मीर में आर्टिकल 370 को वापस लागू करवाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस गुपकार डिक्लेरेशन का हिस्सा तब भी थी और अब भी है और यह उनके कश्मीर के नेताओं के बयानों से स्पष्ट हो रहा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस गुपकार डिक्लेरेशन के साथ मिलकर जिला विकास परिषद के चुनाव भी लड़ रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस हमेशा से देश विरोधी ताकतों का साथ देते आई है। यहां तक की पी चिदंबरम और गुलाम नबी आजाद खुलेआम कह रहे कि कश्मीर से धारा 370 फिर से बहाल होनी चाहिए।

क्या है गुपकार संगठन
दरअसल, गुपकार जम्मू-कश्मीर के विपक्षी दलों का एक गठबंधन है, जिसे पीपुल्स एलायंस फॉर गुपकर डिक्लेयरेशन (पीएजीडी) का नाम दिया गया है, जो एक तरह का घोषणा पत्र है। इसी गुपकार घोषणा पत्र पर हस्ताक्षर करने वाली सभी पार्टियों के एक समूह को गुपकार गठबंधन कहा जाता है। इसका उद्देश्य जम्मू-कश्मीर को पहले की तरह विशेष राज्य का दर्जा दिलाने की है। इस गुपकार गठबंधन में फारूक अब्दुल्ला की पार्टी नेशनल कॉन्फ्रेंस और महबूबा मुफ्ती की पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी), पीपुल्स कॉन्फ्रेंस के अलावा जम्मू-कश्मीर की 6 पार्टियां शामिल है।