भोपाल।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के एडिटेड वायरल वीडियो पर मुद्दा गरमाता ही जा रहा है। क्राइम ब्रांच ने पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह सहित 11 लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। इसी बीच आई खबर के मुताबिक उससे इस वीडियो को जबलपुर आई जी भगवत सिंह चौहान ने भी अपने व्हाट्सएप ग्रुप में शेयर किया था। जिसके बाद कांग्रेस ने मांग की है कि आईजी के खिलाफ एक्शन लिया जाए।

दरअसल रविवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के एक पुराने वीडियो को एडिट कर उसे वायरल किया गया था। जिसे पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के अलावा कुल 11 लोगों ने शेयर किया था। इसे बीसीए वीडियो जबलपुर के आईजी भगवान सिंह चौहान ने भी अपने अधिकारियों के ग्रुप में डाला था। अब इस बात पर सफाई देते हुए उन्होंने कहा है कि 80 को जांच के लिए वीडियो भेजा था जो गलती से अफसरों के ग्रुप में वायरल हो गया। जिसके बाद कांग्रेस अब आईजी के खिलाफ एफ आई आर दर्ज करने की मांग कर रही है।

बता दे कि रविवार को वायरल हुए वीडियो में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कह रहे हैं कि आबकारी वाले क्या करें हैं पूरे मध्यप्रदेश में दारू इतनी फैला दो कि लोग पिएं और पड़े रहे। बताया जा रहा है कि यह वीडियो काफी पुराना है जिसमें 2 मिनट 19 सेकंड के इस वीडियो में छेड़छाड़ कर इसे 9 सेकंड का वीडियो तैयार किया गया है।