भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश के नेशनल पार्क में बाघ के दीदार के लिए देश से ही नहीं बल्कि विदेशों से पर्यटक पहुंचते हैं। यहां आने वाले पर्यटकों में टाइगर को देखने का जितना उत्साह होता है, उतना ही डर भी होता है। तो अब डरने की जरूरत नहीं है, क्योंकि जल्द ही नेशनल पार्कों में आने वाले पर्यटक बिना डर के टाइगर को बड़े पास से देख सकेंगे। इसके लिए प्रदेश के नेशनल पार्क में जल्द ही मचान सफारी शुरू होने जा रही है।

नेशनल पार्क के अंदर बनेंगे मचान

नेशनल पार्क के अंदर जो एरिया वाइल्ड लाइफ भ्रमण और पिकनिक स्पॉट्स के लिए चिन्हित है वहीं वॉच टावर बनाए जाएंगे और इन वॉच टावरों के अंदर मचान रखा जाएगा। इन्हीं मचानों में बैठकर पर्यटक शाम को 6:00 बजे से रात 11:00 बजे तक बाघ सहित अन्य जंगली जानवरों का दीदार बिना डरे कर सकेंगे।

मचान सफारी को पायलट प्रोजेक्ट के रूप में शुरू किया जाएगा। इसकी शुरुआत पेंच नेशनल पार्क से की जाएगी। पेंच में 11 जगहों पर वॉच टावर बनाकर उसमें मचान लगाए जाएंगे। एक मचान पर केवल चार ही लोग बैठ सकेंगे इन मचानों में पर्यटकों के साथ गाइड भी रहेगा। पर्यटकों की सुरक्षा की दृष्टि से मचान के आसपास वन्य सुरक्षाकर्मी भी मौजूद रहेंगे। बता दें कि ज्यादातर मचान नदी तालाब के आसपास बनाए जाएंगे ताकि जो वन्यजीव पानी पीने के लिए घाट पर आए उन्हें आसानी से देखा जा सके।