मप्र में बेकाबू हालात, 13590 नए केस और 74 की मौत, 24 अप्रैल से किल कोरोना अभियान

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मप्र (MP) में एक्टिव कोरोना संक्रमितों (Coronavirus) का आंकड़ा 85 हजार के पार हो गया। 30 अप्रैल तक कोरोना कर्फ्यू (Corona Curfew) और लॉकडाउन (Lockdown 2021) लगाने के बावजूद दिनों दिन कोरोना संक्रमितों के आंकड़े बढ़ते जा रहे है।पिछले 24 घंटे में 13,590 केस सामने आए है और 74 की मौतें हो गई। इसमें इंदौर और भोपाल में एक बार फिर 1700 से ज्यादा केस मिले है।इंदौर में 1753, भोपाल में 1782, ग्वालियर 1196 और जबलपुर 806 केस मिले है।

यह भी पढ़े.. गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा का बड़ा बयान- दिल्ली वाला फार्मूला एमपी में अपनायें पुलिस

हैरानी की बात तो ये है कि मप्र में 7 दिन में 76 हजार से ज्यादा कोरोना संक्रमित मिले है और 512 लोगों की मौत हुई है। प्रदेश में 22 अप्रैल को 57,176 टेस्ट हुए। पिछले 7 दिनों के आंकड़े देखें तो हर दिन 50 हजार से 54 हजार के बीच टेस्ट हुए। पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा जबलपुर में 8 मौतें दर्ज की गई, जबकि ग्वालियर में 7, इंदौर में 6 और भोपाल में 5 मरीजों ने अपनी जान गंवाई है।

वही मप्र में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिये किये जा रहे चहुँमुखी प्रयासों से कोरोना की पॉजिटिविटी दर लगातार कम हो रही है। गुरूवार को मप्र का कोरोना पॉजिटिविटी रेट 24.29% था, जो शुक्रवार को घटकर 23.76 % हो गया है। वर्तमान में प्रतिदिन 50 हजार से अधिक टेस्ट किये जा रहे हैं। गुरूवार 22 अप्रैल को कुल 57 हजार 176 टेस्ट किये गए, जो अब तक की सर्वाधिक दैनिक टेस्ट संख्या है। सभी जिलों में सैम्पल लेने के लिये मोबाइल टीमें भी भेजा जाना शुरू कर दिया गया है।

यह भी पढ़े.. मप्र में एक्टिव केस 85 हजार के पार, सीएम शिवराज सिंह बोले-संक्रमण की चेन तोड़ना जरुरी

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि समन्वित प्रयासों, प्रबंधन एवं चिकित्सकीय सुविधाओं की बढ़ोत्तरी से प्रतिदिन स्वस्थ और संक्रमण मुक्त होने वालों की संख्या में तेजी से वृद्धि हो रही है। दिनांक 19 अप्रैल को 6836, 20 अप्रैल को 8937, 21 अप्रैल को 9035, 22 अप्रैल को 9620 और 23 अप्रैल को 10 हजार 833 कोरोना मरीज संक्रमण मुक्त होकर सकुशल अपने घर पहुँचे हैं। यह राहत की बात है कि पिछले 24 घंटे में 15 जिलों में जितने कोरोना के नये केस आये हैं, उससे कहीं ज्यादा मरीज इन जिलों में रिकवर भी हुए हैं।

24 अप्रैल से 9 मई तक किल कोरोना अभियान

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने बताया कि मप्र में 24 अप्रैल से 9 मई तक सभी जिलों के ग्रामीण क्षेत्रों में किल कोरोना अभियान-2 चलाया जाएगा। उन्होंने बताया कि अभियान के अंतर्गत समस्त जिलों के ग्रामीण क्षेत्रों में जिला कलेक्टर तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा चयनित हॉट स्पॉट, जहाँ कोविड-19 पॉजिटिविटी दर में वृद्धि हो रही हो, में कोविड-19 की ट्रांसमिशन चेन को तोड़ने के लिए गठित दल द्वारा घर-घर जाकर बुखार के लक्षण वाले कोरोना के संभावित रोगियों की खोज की जाएगी।

जिलों में दलों का गठन

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने बताया कि किल कोरोना अभियान-2 के लिये मप्र के सभी जिलों में दलों का गठन कर प्रशिक्षित किया गया है। प्रशिक्षित दल विकासखंडवार अभियान को संचालित करेंगे। सभी जिला कलेक्टर्स एवं स्वास्थ्य विभाग के अमले को निर्देशित किया गया है कि अभियान का संचालन पूरी गंभीरता से किया जाए। अभियान में शामिल स्वास्थ्य कार्यकर्ता तथा आशा कार्यकर्ताओं के पास पर्याप्त सर्वेलेंस के संसाधन ( Non Contact Thermometer, Pulse Oximeter, Triple Layer Mask, Face Shields, Gloves) एवं उपचार के लिए आवश्यक औषधियाँ भी उपलब्ध रहेंगी।

मप्र

मप्र