गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा का बड़ा बयान- दिल्ली वाला फार्मूला एमपी में अपनायें पुलिस

नरोत्तम मिश्रा

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। मध्य प्रदेश सरकार (MP Government) के गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा (Home Minister Dr. Narottam Mishra) ने बड़ा बयान दिया है। डॉ नरोत्तम मिश्रा ने ग्वालियर (Gwalior) में कहा कि कोरोना गाइड लाइन का पालन कराना जरूरी है लेकिन इसके लिए बल प्रयोग करने से अच्छा है। दिल्ली (Delhi) वाला फार्मूला अपनाएं। उन्होंने कहा कि जनता को भी समझना होगा कि यदि मेरा पुलिस का जवान रोकता है या टोकता है तो उसमें उसका क्या हित है, वो तो आपके हित की ही बात कर रहा है।

यह भी पढ़े.. कोरोना संकटकाल में केन्द्र सरकार का बड़ा फैसला, 80 करोड़ लोगों को मिलेगा लाभ

गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने शुक्रवार को ग्वालियर संभाग के पुलिस आधिकारियों की बैठक ली। बैठक में कोरोना काल में पुलिस की स्थितियों और उनकी जरूरतों पर चर्चा की गई। उन्होंने पुलिस अधिकारियों से कहा कि किसी भी कीमत पर कोरोना की गाइड लाइन का पालन कराएं लेकिन बल प्रयोग करने से अच्छा है कि वे दिल्ली वाला फार्मूला अपनाएं। पुलिस से झगड़ने वालों का वीडियो वायरल करें। मामला अदालत तक ले जाएं, जैसे दिल्ली में पति-पत्नी का हुआ था वीडियो वायरल हुआ था। अब तिहाड़ जेल की हवा खा रहे है।

उन्होंने कहा कि दिल्ली में पुलिस ने क्या गलत किया। यदि मेरा पुलिस का जवान आपको रोकता है टोकता है तो उसमें उसका क्या हित है वो तो आपके ही हित की बात कर रहा है तो उसपर आक्रोशित क्यों होना। वो दिन रात धूल धूप में , सन्नाटे में ड्यूटी दे रहा है आपकी सुरक्षा के लिए ही कर रहा है ना। इसलिए पारस्परिक सहयोग से ही ये जंग जीती जा सकती है।

कमलनाथ दिग्विजय सिंह पर साधा निशाना

डॉ नरोत्तम मिश्रा ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा । उन्होंने कहा कि कांग्रेस (Congress) हमेशा उलटा चलती है, कांग्रेस अब तक नहीं समझ पाई है उसे करना क्या है। जहां राजनीति (Politics) करना होती है, वहां उपदेश देती है और जब सामाजिक काम करना होता है, तो राजनीति करने लगते है। नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि मैंने एक ट्वीट पढ़ा कि उड़ीसा से ग्वालियर के लिए आक्सीजन के पांच टैंकरों की व्यवस्था की है आप मंगवा ले। किसी ने व्यवस्था नहीं कि हमारे कलेक्टर ने बात की थी। उड़ीसा (odisha) के अंसुल के उद्योगपति ने कहा कि मेरे पास 500 मीट्रिक टन आक्सीजन है सभी प्रदेशों को दे रहा हूँ आप भी मंगा लो।

कमलनाथ (Kamal Nath) पर तंज कसते हुए नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि आप उद्योगपति हो, 15 महीने मुख्यमंत्री रहे, सांसद रहे, मंत्री रहे, आपका बेटा सांसद है क्या प्रदेश के लिए किराये से टैंकर नहीं मंगा सकते थे, एक छोटा सा योगदान नहीं दे सकते । हम तो मंगा ही लेंगे और कर ही रहे हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान दिन रात लगे हुए हैं लेकिन आपका क्या योगदान है इस महामारी में, सिर्फ ट्वीट करना।

यह भी पढ़े.. मप्र में एक्टिव केस 85 हजार के पार, सीएम शिवराज सिंह बोले-संक्रमण की चेन तोड़ना जरुरी

डॉ नरोत्तम मिश्रा ने नाम लिए बिना कहा कि क्या दोनो बुजुर्ग नेताओं का कोई योगदान नहीं होना चाहिए, क्या किसी अस्पताल में दिखे ये दोनों बुजुर्ग नेता। ये इस आपदा में भी ट्विटर पर ही पाए जाते हैं और कुछ नहीं करते।
मध्यप्रदेश की हमारी टीम अच्छा काम कर रही है, कांग्रेस का कोरोना में कोई योगदान नहीं है।

गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि ये संकट का समय है युद्ध जैसे हालात हैं। आपदा राष्ट्रीय नहीं अंतरराष्ट्रीय है। हमें मिल जुलकर नियमों का पालन कर संयमित होकर इस पर विजय प्राप्त करनी है सरकार अपना काम कर रही है। सामाजिक संस्थाएँ लोगों को जागरूक कर रहीं है। कोरोना की चैन तोड़ने के लिए सबको अपनी भूमिका निभानी होगी।