सोशल मीडिया पर छिड़ी वॉर, आमने-सामने आये शिवराज और कमलनाथ

भोपाल| मध्य प्रदेश में दो दिग्गज नेता एक बार फिर आमने सामने आ गए हैं| मुख्यमंत्री कमलनाथ और पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एक दूसरे को लेकर जमकर बयानबाजी करते हैं| लेकिन इस बार दोनों के बीच ट्विटर पर जंग छिड़ गई| प्रदेश में खाद की किल्लत पर सीएम कमलनाथ ने कहा प्रदेश में यूरिया का कोई संकट नहीं है, वहीं इसके जवाब में शिवराज ने कहा सच तो यह है कि आपकी सरकार किसानों को तबाह व बर्बाद कर रही है|

दरअसल, प्रदेश भर में इस समय किसान यूरिया को लेकर चिंतित हैं, कई जगह लम्बी लाइन में लगने के बाद भी किसानों को पर्याप्त खाद नहीं मिल रहा है| जो कि अखबार की सुर्खियां बन रहा है, इसी मुद्दे को लेकर भाजपा सोशल मीडिया पर सरकार को घेर रही है| इस बीच सीएम कमलनाथ ने शुक्रवार को ट्वीट कर किसानों को आश्वस्त किया कि प्रदेश में यूरिया का कोई संकट नहीं है। किसान भाई चिंतित ना हो, यूरिया की पर्याप्त आपूर्ति को लेकर राज्य सरकार निरंतर प्रयासशील है। उनके ट्वीट पर शिवराज भड़क गए और उन्होंने भी इस ट्वीट का जवाब देते हुए लम्बी लाइनों में लगी किसानों की फोटो और अख़बार की कटिंग के साथ ट्वीट कर कहा पहले कर्जमाफ़ी का झूठा वादा किया, फिर बोनस व राहत की राशि के लिए तरसाया, अब यूरिया के लिए तरसा रहे हैं। 24 घंटे किसान लाइन में लगा है और आप कह रहे हैं कि हमारे पास पर्याप्त इंतज़ाम हैं। यह अकर्मण्यता की पराकाष्ठा है।

प्रदेश में यूरिया का कोई संकट नहीं : कमलनाथ 

सीएम कमलनाथ ने ट्वीट कर लिखा ‘प्रदेश में यूरिया का कोई संकट नहीं है। किसान भाई चिंतित ना हो, यूरिया की पर्याप्त आपूर्ति को लेकर राज्य सरकार निरंतर प्रयासशील है। हम निरंतर केन्द्र सरकार से यूरिया का कोटा बढ़ाने को लेकर संवाद व आग्रह कर रहे है।प्रदेश के किसान भाइयों को यूरिया की कोई कमी नहीं होने दी जायेगी’। उन्होंने आगे लिखा ‘आपूर्ति के हिसाब से यूरिया का वितरण निरंतर किया जा रहा है। पिछले वर्ष के मुक़ाबले हमने अभी तक ज़्यादा मात्रा में यूरिया की उपलब्धता व बिक्री सुनिश्चित की है’।  सीएम ने अगले ट्वीट में लिखा ‘प्रदेश में किसान भाइयों को यूरिया की पर्याप्त आपूर्ति को लेकर  व कालाबाज़ारी रोकने को लेकर पूर्व में ही निर्देश जारी किये जा चुके है’।

पहले कर्जमाफी और अब यूरिया के लिए तरसा रहे : शिवराज 

कमलनाथ के ट्वीट पर जवाब देते हुए पूर्व सीएम शिवराज ने लिखा ‘सच तो यह है कि आपकी सरकार किसानों को तबाह व बर्बाद कर रही है! पहले कर्जमाफ़ी का झूठा वादा किया, फिर बोनस व राहत की राशि के लिए तरसाया, अब यूरिया के लिए तरसा रहे हैं। 24 घंटे किसान लाइन में लगा है और आप कह रहे हैं कि हमारे पास पर्याप्त इंतज़ाम हैं। यह अकर्मण्यता की पराकाष्ठा है’। उन्होंने अपने अगले ट्वीट में लिखा ‘हमारे द्वारा अपने कार्यकाल में यूरिया का अग्रिम भंडारण कर लिया जाता था ताकि किसानों को कोई असुविधा न हो लेकिन कांग्रेस सरकार का तो जैसे लक्ष्य है किसानों को असुविधा देना! इन्होंने यूरिया की ढंग से व्यवस्था नहीं की जिसके कारण आज किसान बंधु दर-दर की ठोकरें खाने को मजबूर हैं!’