MP में क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद, आज रात 8 बजे CM शिवराज करेंगे ऐलान

भोपाल।

गृह मंत्रालय (home Ministry)ने लॉकडाउन 5 (Lockdown 5.0) के लिए नई गाइडलाइन्स जारी कर दी हैं। देशभर के कंटेनमेंट जोनों  (Containment zones) में लॉकडाउन 30 जून तक बढ़ा दिया गया है। इसका स्वरूप जिलों में किस तरह रहेगा, इसका अधिकार राज्य सरकारों को दिया गया है। इसी कड़ी में आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) रात 8 बजे प्रदेश को संबोधित करेंगे। जिसमें शिवराज बताएंगे की क्या खुला रहेगा और क्या बंद।माना जा रहा है कि इस दौरान वे कई बड़े ऐलान भी कर सकते है। मुख्यमंत्री के संदेश का प्रसारण दूरदर्शन और सभी क्षेत्रीय न्यूज चैनल्स पर होगा।

दरअसल, शनिवार को गृह मंत्रालय द्वारा लॉक डाउन को 1 जून से 30 जून तक बढ़ाया गया।वही शिवराज सरकार (SHIVRAJ SARKAR) ने फैसला लिया है कि मध्य प्रदेश में 15 जून तक लॉक डाउन बढ़ाया जाएगा। पूरे देश भर में रात 9:00 बजे से सुबह 5:00 बजे तक कर्फ्यू रहेगा। इसके साथ ही होटल धार्मिक स्थल और रेस्टोरेंट 8 जून से खोल दिए जाएंगे। लोग एक राज्य से दूसरे राज्य आसानी से जा सकेंगे। साथ ही अब पास बनवाने की अनिवार्यता को भी समाप्त कर दिया गया।इसी कडी में सीएम शिवराज सिंह चौहान आज रात 8 बजे प्रदेश की जनता को संबोधित करेंगे और प्रदेश में लॉकडाउन को लेकर गाइडलाइन जारी कर सकते हैं।इससे पहले शनिवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बताया था कि राज्य में स्कूल-कॉलेज खुलेंगे, लेकिन इस पर आखिरी फैसला 13 जून के बाद ही लिया जाएगा। कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए सरकार ने लॉकडाउन को 15 दिन के लिए बढ़ाया है।

बता दे कि आज लॉकडाउन 4.0 का आखिरी दिन है बावजूद इसके प्रदेश में कोरोना के आंकड़े कम होने का नाम नही ले रहे है। आए दिन आंकडो़ में इजाफा हो रहा है। मध्यप्रदेश के 52 में से 51 जिले कोरोना वायरस की चपेट में हैं। वर्तमान में आकंड़ा 800 के पार और मृतकों की संख्या 330 से ऊपर हो गई है, ऐसे में सरकार ज्यादा छूट देने के मूड में नही है, खास करके इंदौर , भोपाल और उज्जैन में स्थिति गंभीर बनी हुई है।वहीं, राज्य के 51 जिलों में 904 कंटेन्टमेंट एरिया हैं। सबसे ज्यादा कंटेनमेंट एरिया इंदौर में हैं।केन्द्र सरकार की गाइडलाइन के अनुसार लॉकडाउन केवल कंटेनमेंट क्षेत्र में रहेगा ऐसे में प्रदेश में 904 क्षेत्रों में 30 जून तक लॉकडाउन रहेगा।

ये छूट मिल सकती है

  • प्रदेश में रेड और ग्रीन जोन का वर्गीकरण खत्म हो सकता है। सिर्फ कंटेनमेंट क्षेत्र रहेगा, जिसे बफर बनाकर सख्ती रखी जाएगी। रेड जोन से रेड जोन में भी आवागमन फ्री किया जाएगा।
  • उदाहरण के लिए इंदौर का व्यक्ति भोपाल अथवा उज्जैन बिना पास के आ-जा सकेगा। जिलों के भीतर निजी वाहनों से आवाजाही फ्री की जाएगी। ई-पास की व्यवस्था खत्म होगी।
  • जिले के भीतर और एक जिले से दूसरे जिले में जाने के लिए पब्लिक ट्रांसपोर्ट के बारे में मुख्यमंत्री रविवार को निर्णय करेंगे।
  • राज्य से बाहर जाने के लिए ऑनलाइन आवेदन की व्यवस्था रहेगी। व्यक्ति के आवेदन करते ही ऑटो जनरेटेड पास बनेगा।
  • अंतर जिला परिवहन 50% यात्रियों के साथ शुरू हो सकता है।
  • रात 10:00 बजे से सुबह 7:00 बजे तक कर्फ्यू रहेगा।