हाथ पैर की झनझनाहट से निजात पाना चाहते हैं तो अपनाएं ये घरेलू नुस्खे, पढ़े खबर

Tingling in hands and feet try these Home Remedies

Tingling in hands and feet try these Home Remedies: ज्यादा देर तक एक ही अवस्था में बैठे रहने के बाद हाथ-पैर में झनझनाहट होने लगती है। जिसे थोड़ी देर हिलाने के बाद आराम मिल जाता है। हालांकि इस समस्या को लोग नजरअंदाज कर देते हैं। इस पर ज्याद ध्यान नहीं देते हैं। लेकिन अगर रोजाना यह समस्या होती है तो इसे नजरअंदाज करने से सेहत पर बुरा असर पड़ सकता है। क्योंकि यह समस्या खराब खानपान और पोषक तत्वों की कमी के कारण होता है। अगर आप भी इस समस्या से परेशान हैं तो कुछ घरेलु नुस्खे जिन्हें अपनाने से छुटकारा पा सकते हैं।

हल्दी का सेवन

अगर आप हाथ या पैरों की झनझनाहट से परेशान है तो हल्दी का सेवन दूध के साथ शुरु कर दें। क्योंकि हल्दी शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इससे हमारी शरीर की इम्युनिटी सिस्टम मजबूत होती है। इसका सेवन करने से शरीर में खून का संचार बेहतर ढंग से होता है।

गुनगुना पानी

अगर आपके भी हाथ पैर में झनझनाहट होता है तो आप गुनगुने पानी का इस्तेमाल कर सकते हैं। आप अपने हाथ पैर को 5 से 10 मिनट तक गुनगुने पानी में रखते हैं तो आपको इससे आराम मिलेगा।

दालचीनी का सेवन

अगर शरीर में झनझनाहट की परेशानी है तो इसको दूर करने के लिए आप दालचीनी का सेवन कर सकते हैं। इसका सेवन आपके शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसमें भरपूर मात्रा में न्यूट्रिएंट्स पाए जाते है। जिनके कारण आपके शरीर में खून का संचार बेहतर ढंग से होता है।

एक्सरसाइज

अगर आप झनझनाहट की बीमारी से छुटकारा पाना चाहते हैं तो नियमित एक्सरसाइज करें। एक्सरसाइज करने से खून का संचार बढ़िया बना रहता है। जिससे झनझनाहट की बीमारी से निजात मिलती है।

पौष्टिक आहार

झनझनाहट की समस्या से छुटकारा पाने के लिए विटीमिन बी, मैग्नीशियम, आयरन और प्रोटीन जैसे तत्वों से युक्त पौष्टिक आहार का सेवन करना चाहिए।

(Disclaimer: यह जानकारी इंटरनेट पर उपलब्ध विभिन्न श्रोतों से ली गई है। MP Breaking News इसकी पुष्टि नहीं करता है। इसे अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह जरुर लें।)

 


About Author
Shashank Baranwal

Shashank Baranwal

पत्रकारिता उन चुनिंदा पेशों में से है जो समाज को सार्थक रूप देने में सक्षम है। पत्रकार जितना ज्यादा अपने काम के प्रति ईमानदार होगा पत्रकारिता उतनी ही ज्यादा प्रखर और प्रभावकारी होगी। पत्रकारिता एक ऐसा क्षेत्र है जिसके जरिये हम मज़लूमों, शोषितों या वो लोग जो हाशिये पर है उनकी आवाज आसानी से उठा सकते हैं। पत्रकार समाज मे उतनी ही अहम भूमिका निभाता है जितना एक साहित्यकार, समाज विचारक। ये तीनों ही पुराने पूर्वाग्रह को तोड़ते हैं और अवचेतन समाज में चेतना जागृत करने का काम करते हैं। मशहूर शायर अकबर इलाहाबादी ने अपने इस शेर में बहुत सही तरीके से पत्रकारिता की भूमिका की बात कही है– खींचो न कमानों को न तलवार निकालो जब तोप मुक़ाबिल हो तो अख़बार निकालो मैं भी एक कलम का सिपाही हूँ और पत्रकारिता से जुड़ा हुआ हूँ। मुझे साहित्य में भी रुचि है । मैं एक समतामूलक समाज बनाने के लिये तत्पर हूँ।

Other Latest News