MPPSC 2023 : 15 अप्रैल से शुरू होगी परीक्षा, उम्मीदवारों की महत्वपूर्ण मांग, तारीख में बदलाव संभव, 571 पदों पर होनी है भर्ती

MPPSC Exam 2024

MPPSC Recruitment 2023 : एमपीपीएससी के छात्रों के लिए महत्वपूर्ण खबर है। मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा राज्य सेवा परीक्षा 2019 के अतिरिक्त मुख्य परीक्षा का आयोजन करने की घोषणा की गई थी। इसके लिए परीक्षा का आयोजन 15 से 20 अप्रैल तक किया जाना है। 3 साल बाद होने वाली परीक्षा के लिए अलग-अलग दिनों पर अलग-अलग विषयों की परीक्षा का आयोजन किया जाएगा। परिणाम बदले जाने और बार-बार विवादों में रहने के बाद एक बार फिर से इस परीक्षा को लेकर विवाद शुरू हो गए हैं। दरअसल इस बार विवाद परीक्षा तिथियों का है।

मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा राज्य सेवा परीक्षा 2019 के अतिरिक्त परीक्षा 20 अप्रैल को रखी गई है। हालांकि इसी दिन पटवारी चयन परीक्षा का भी आयोजन किया जाना है। लोक सेवा आयोग द्वारा घोषित शेड्यूल के अनुसार 15 से 18 अप्रैल तक सामान्य अध्ययन की परीक्षा होनी है, 19 अप्रैल को हिंदी और 20 को निबंध लेखन परीक्षा का आयोजन किया जाना है।

तारीख आगे बढ़ाने की मांग शुरू

इधर पटवारी चयन भर्ती परीक्षा को देखते हुए 20 अप्रैल वाले पर्चे की तारीख आगे बढ़ाने की मांग शुरू कर दी गई है। अभ्यर्थी द्वारा राज्य सेवा परीक्षा 2019 के अतिरिक्त मुख्य परीक्षा में भाग लिए जाने के साथ ही पटवारी चयन परीक्षा में भी शामिल होने की तैयारी की गई है। ऐसे में कई अभ्यर्थियों की मांग है की परीक्षा की तिथि को आगे बढ़ाया जाए। मध्य प्रदेश कर्मचारी चयन बोर्ड द्वारा पटवारी चयन परीक्षा पूर्व में घोषित की जा चुकी थी। ऐसे में मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग को तारीख का ध्यान रखते हुए परीक्षा कार्यक्रम घोषित किए जाने थे। अब तारीखों में हो रहे टकराव के कारण अभ्यर्थी असमंजस की स्थिति में है।

बता दे कि मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा पिछले 4 वर्षों में एक भी राज्य सेवा चयन परीक्षा के अंतिम स्तर तक की प्रक्रिया को पूरा नहीं किया गया जबकि पटवारी चयन का मौका भी दूसरे विकल्प के तौर पर छात्रों के लिए अहम माना जा रहा है। ऐसे में मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा इस बात को संज्ञान में लिए जाने की मांग शुरू कर दी गई है। इतना ही नहीं छात्रों का कहना है कि एमपीपीएससी की परीक्षा की तिथि को आगे बढ़ाया जाना चाहिए, कम संख्या से अलग चुने हुए अभ्यर्थी इसमें हिस्सा ले रहे हैं। ऐसे में एमपीपीएससी के तारीख में परिवर्तन करना आसान होगा।

इससे पहले राज्यसेवा 2019 के परिणाम घोषित किए गए थे। इसके साथ ही इंटरव्यू की प्रक्रिया की तैयारी की गई थी। हालांकि एक बार फिर से परिणाम को रद्द कर दिया गया है फिर से प्रक्रिया करवाने की घोषणा की गई। जिसमें मामला हाईकोर्ट में पहुंचा था और मामला फिर उलट गया अब अतिरिक्त मुख्य परीक्षा का आयोजन किया जा रहा है।

पटवारी चयन परीक्षा : 6 हजार से अधिक पदों पर भर्ती

इधर पटवारी चयन परीक्षा में इस बार 6 हजार से अधिक पदों पर भर्ती प्रक्रिया आयोजित की जा रही है। जिसमें 1200000 से अधिक छात्रों के आवेदन जमा हुए हैं। पिछले साल के मुकाबले इस साल अभ्यर्थियों के आवेदन की संख्या दो लाख अधिक है। वहीं छात्रों की मांग है कि एमपीपीएससी द्वारा राज्य सेवा परीक्षा की तिथि को आगे बढ़ाया जाए। इसके बाद माना जा रहा है कि एमपीपीएससी की परीक्षा एक बार फिर से आगे बढ़ सकती है। वहीं छात्रों को इस परीक्षा में शामिल होने के लिए लंबा इंतजार करना पड़ सकता है।


About Author
Kashish Trivedi

Kashish Trivedi

Other Latest News