Flowering Plant: बालकनी में लगाएं ये पौधे, खूबसूरत फूलों से महक उठेगा घर

Flowering Plant: क्या आप अपनी बालकनी को एक जीवंत और सुगंधित स्थान में बदलना चाहते हैं? यदि हाँ, तो इन खूबसूरत फूलों वाले पौधों को ज़रूर लगाएं जो न केवल आपकी बालकनी को रंगों से भर देंगे, बल्कि मनमोहक खुशबू भी फैलाएंगे।

gardening tips

Flowering Plant: बहुत लोगों को घर में पौधे लगाने का शौक होता है। अपने इसी शौक के चलते कई लोग अपने घर का एक हिस्सा गार्डन के रूप में तब्दील कर देते हैं। वहीं जिन लोगों के घर ज्यादा जगह नहीं होती है वह लोग घर की बालकनी या कुछ छत पर तरह-तरह के पौधे लगाते हैं। दुनिया में शायद ही कोई व्यक्ति ऐसा होगा जिसे फूल पसंद न हो, अधिकांश लोगों को फूल अत्यधिक पसंद होते हैं। अगर आपको भी रंग बिरंगे फूल बहुत ज्यादा पसंद है, और आप भी अपने घर पर रंग बिरंगे फूलों वाले पौधे लगाना चाहते हैं तो आज हम आपको उन फूलों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें बालकनी में लगाने से न सिर्फ बालकनी खूबसूरत दिखती है बल्कि पूरा घर महक उठता है, तो चलिए जानते हैं की बालकनी में कौन-कौन से फूल वाले पौधे लगाना चाहिए।

बालकनी में लगाएं ये फूल वाले पौधे

कॉसमॉस

कॉसमॉस एक लोकप्रिय फूल वाला पौधा है जो विभिन्न प्रकार के रंगों में आता है, जिनमें लाल, पीला, सफेद, गुलाबी और नारंगी शामिल हैं। इसे उगाना आसान है। कॉसमॉस के बीज सीधे वसंत या गर्मियों की शुरुआत में मिट्टी में बोए जा सकते हैं। कॉसमॉस को पूर्ण सूर्य या आंशिक छाया की आवश्यकता होती है। मिट्टी को नम रखें, लेकिन गीली न होने दें। हर 2-3 महीने में एक बार संतुलित उर्वरक डालें। मुरझाए हुए फूलों को हटाते रहें ताकि नए फूल आते रहें। कॉसमॉस 2-5 फीट ऊंचे तक बढ़ सकते हैं।

गेंदा

गेंदा एक लोकप्रिय फूल है जो अपनी चमकीले रंगों और मजबूत सुगंध के लिए जाना जाता है। यह भारत में पूजा और त्योहारों में अक्सर इस्तेमाल किया जाता है। गेंदा उगाना आसान है और यह विभिन्न प्रकार की जलवायु में पनप सकता है। गेंदे के फूल विभिन्न रंगों में आते हैं, जिनमें पीला, नारंगी, लाल और सफेद शामिल हैं। गेंदे के पौधे 12 इंच से लेकर 3 फीट तक ऊंचे हो सकते हैं। गेंदे के फूल गर्मियों और शरद ऋतु में खिलते हैं। गेंदे के पौधों को पूर्ण सूर्य की आवश्यकता होती है। गेंदे को अच्छी तरह से सूखा और रेतीली मिट्टी की आवश्यकता होती है। मिट्टी को नम रखें, लेकिन गीली न होने दें। गेंदे के बीज 2 सप्ताह के अंदर अंकुरित हो जाते हैं।

गुड़हल

गुड़हल का फूल, जिसे चाइनीज रोज़ या हिबिस्कस भी कहा जाता है, एक लोकप्रिय फूल वाला पौधा है जो विभिन्न रंगों में आता है, जिनमें लाल, गुलाबी, सफेद और पीला शामिल हैं। यह उगाना आसान है और यह विभिन्न प्रकार की जलवायु में पनप सकता है। गुड़हल के फूल विभिन्न रंगों में आते हैं, जिनमें लाल, गुलाबी, सफेद और पीला शामिल हैं। गुड़हल के पौधे 5 से 8 फीट ऊंचे तक बढ़ सकते हैं। गुड़हल के फूल गर्मियों और शरद ऋतु में खिलते हैं। गुड़हल के पौधों को पूर्ण सूर्य की आवश्यकता होती है। गुड़हल को अच्छी तरह से सूखा और रेतीली मिट्टी की आवश्यकता होती है। मिट्टी को नम रखें, लेकिन गीली न होने दें। गुड़हल को बीज या कटिंग से प्रचारित किया जा सकता है।

Disclaimer- यहां दी गई सूचना सामान्य जानकारी के आधार पर बताई गई है। इनके सत्य और सटीक होने का दावा MP Breaking News नहीं करता।


About Author
भावना चौबे

भावना चौबे

इस रंगीन दुनिया में खबरों का अपना अलग ही रंग होता है। यह रंग इतना चमकदार होता है कि सभी की आंखें खोल देता है। यह कहना बिल्कुल गलत नहीं होगा कि कलम में बहुत ताकत होती है। इसी ताकत को बरकरार रखने के लिए मैं हर रोज पत्रकारिता के नए-नए पहलुओं को समझती और सीखती हूं। मैंने श्री वैष्णव इंस्टिट्यूट ऑफ़ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन इंदौर से बीए स्नातक किया है। अपनी रुचि को आगे बढ़ाते हुए, मैं अब DAVV यूनिवर्सिटी में इसी विषय में स्नातकोत्तर कर रही हूं। पत्रकारिता का यह सफर अभी शुरू हुआ है, लेकिन मैं इसमें आगे बढ़ने के लिए उत्सुक हूं।मुझे कंटेंट राइटिंग, कॉपी राइटिंग और वॉइस ओवर का अच्छा ज्ञान है। मुझे मनोरंजन, जीवनशैली और धर्म जैसे विषयों पर लिखना अच्छा लगता है। मेरा मानना है कि पत्रकारिता समाज का दर्पण है। यह समाज को सच दिखाने और लोगों को जागरूक करने का एक महत्वपूर्ण माध्यम है। मैं अपनी लेखनी के माध्यम से समाज में सकारात्मक बदलाव लाने का प्रयास करूंगी।