Health: लहसुन की कलियां से पैरों के फंगस को करें दूर, जानें कैसे काम करता है ये देसी उपाय

Health: लहसुन, जिसे भारतीय रसोई में आमतौर पर इस्तेमाल किया जाता है, के कई स्वास्थ्य लाभ हैं। इसके एंटीफंगल गुण पैर के फंगस का इलाज करने में मदद कर सकते हैं। लहसुन में मौजूद एलिसिन नामक यौगिक फंगल संक्रमण से लड़ने में प्रभावी होता है।

भावना चौबे
Published on -

Health: जब हमारे पैरों में फंगल संक्रमण होता है, तो यह हमारे स्वास्थ्य और समय दोनों को प्रभावित कर सकता है। यह समस्या आमतौर पर गर्म और नमी के संदर्भ में उत्पन्न होती है, जब विशेष तरीके से पैरों की देखभाल न की जाए। व्यस्त जीवनशैली, बिना सोके जूते पहनना, और अस्वच्छता भी इस समस्या के कारक हो सकते हैं। पैरों के फंगस से छुटकारा पाने के लिए अनेक उपचार मौजूद हैं, लेकिन विशेषकर लहसुन के प्रयोग से इस समस्या को दूर करना एक प्राकृतिक और प्रभावशाली तरीका हो सकता है। लहसुन में मौजूद एंटीफंगल गुण फंगल संक्रमण से लड़ने में मदद कर सकते हैं और त्वचा को स्वस्थ बनाए रखने में सहायक हो सकते हैं। इसके अलावा, लहसुन के अन्य स्वास्थ्य लाभ भी होते हैं जैसे कि एंटीबैक्टीरियल गुण, जो संक्रमण को रोकने में मदद कर सकते हैं। अतः, लहसुन के इस देसी नुस्खे का उपयोग करके पैरों के फंगस समस्या से निजात पाने का प्रयास कर सकते हैं, जिससे आपकी त्वचा स्वस्थ और शुद्ध रहेगी।

खुजली और जलन को दूर करें

पैरों के फंगस से परेशान हैं? सदियों से चले आ रहे इस नुस्खे को आजमाएं। लहसुन में पाए जाने वाला एलिसिन नामक तत्व फंगस को पनपने से रोकता है। खुजली और जलन भी कम करता है। हालांकि, बड़े अध्ययन अभी बाकी हैं, पर यह घरेलू नुस्खा राहत जरूर दे सकता है। बस ध्यान रखें, जलन हो तो बंद कर दें और फंगस गंभीर हो तो डॉक्टर से जरूर मिलें।

इम्यून सिस्टम बढ़ाएं

सर्दी-जुकाम जैसी बीमारियों से बचने के लिए एक मजबूत प्रतिरक्षा प्रणाली (इम्यून सिस्टम) जरूरी है। लहसुन, सिर्फ खाने में स्वाद बढ़ाने वाला ही नहीं, बल्कि हमारे शरीर का रक्षक भी है। लहसुन में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और सूजन-रोधी (एंटी-इंफ्लेमेटरी) गुण संक्रमण से लड़ने और रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाने में मदद करते हैं। भले ही पैरों पर लगाया जाए, लहसुन के ये गुण त्वचा से अवशोषित होकर रक्तप्रवाह में मिल जाते हैं और पूरे शरीर को फायदा पहुंचाते हैं। सर्दी-जुकाम का मौसम आने पर, जब संक्रमण का खतरा ज्यादा होता है, तो लहसुन का इस्तेमाल रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर बीमार पड़ने से बचा सकता है।

पैरों में कैसे लगाएं लहसुन

1. लहसुन की कलियों को अच्छी तरह से पीस लें। आप इसे मोर्टार और पेस्टल या लहसुन प्रेस का उपयोग करके कर सकते हैं।
2. पिसा हुआ लहसुन 1 छोटा चम्मच तेल के साथ मिलाकर एक चिकना पेस्ट बना लें।
3. अपने पैरों को गर्म पानी और साबुन से धोकर अच्छी तरह सुखा लें।
4. तैयार किए गए लहसुन के पेस्ट को अपने पैरों पर, विशेष रूप से प्रभावित क्षेत्रों पर लगाएं।
5. अपनी उंगलियों का उपयोग करके पेस्ट को धीरे-धीरे 5-10 मिनट तक मालिश करें।
6. पेस्ट लगाने के बाद, सूखे और साफ मोजे पहन लें।
8. पेस्ट को रात भर लगा रहने दें।9. सुबह उठकर, अपने पैरों को गर्म पानी और साबुन से धो लें।


About Author
भावना चौबे

भावना चौबे

इस रंगीन दुनिया में खबरों का अपना अलग ही रंग होता है। यह रंग इतना चमकदार होता है कि सभी की आंखें खोल देता है। यह कहना बिल्कुल गलत नहीं होगा कि कलम में बहुत ताकत होती है। इसी ताकत को बरकरार रखने के लिए मैं हर रोज पत्रकारिता के नए-नए पहलुओं को समझती और सीखती हूं। मैंने श्री वैष्णव इंस्टिट्यूट ऑफ़ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन इंदौर से बीए स्नातक किया है। अपनी रुचि को आगे बढ़ाते हुए, मैं अब DAVV यूनिवर्सिटी में इसी विषय में स्नातकोत्तर कर रही हूं। पत्रकारिता का यह सफर अभी शुरू हुआ है, लेकिन मैं इसमें आगे बढ़ने के लिए उत्सुक हूं। मुझे कंटेंट राइटिंग, कॉपी राइटिंग और वॉइस ओवर का अच्छा ज्ञान है। मुझे मनोरंजन, जीवनशैली और धर्म जैसे विषयों पर लिखना अच्छा लगता है। मेरा मानना है कि पत्रकारिता समाज का दर्पण है। यह समाज को सच दिखाने और लोगों को जागरूक करने का एक महत्वपूर्ण माध्यम है। मैं अपनी लेखनी के माध्यम से समाज में सकारात्मक बदलाव लाने का प्रयास करूंगी।

Other Latest News