Chaitra Navratri 2024: नवरात्रि के आखिरी दिन माता रानी को ऐसे करें प्रसन्न, पाएं सुख-समृद्धि और सफलता का आशीर्वाद

Chaitra Navratri 2024: मां सिद्धिदात्रि नवरात्रि के नौ दिनों में पूजी जाने वाली नौ देवियों में अंतिम देवी हैं। सिद्ध कुंजिका स्तोत्र इनकी आराधना का एक विशेष मन्त्र है। यह माना जाता है कि नवरात्रि के आखिरी दिन, यानि नवमी या दशमी को इस स्तोत्र का जाप करने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं।

भावना चौबे
Published on -
navratri

Chaitra Navratri 2024: आज चैत्र नवरात्रि का नौवां दिन है। आज का दिन मां सिद्धिदात्री को समर्पित होता है। नवरात्रि के आखिरी दिन भक्तजन विधि-विधान से मां सिद्धिदात्री की पूजा-अर्चना करते हैं और व्रत रखते हैं। नवरात्रि के नौ दिनों में आखिरी दिन को सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण माना जाता है। इसी के साथ आज देशभर में रामनवमी का त्यौहार मनाया जा रहा है। अगर आप भी माता रानी को प्रसन्न करना चाहते हैं तो आपको पूजा-पाठ के दौरान नवरात्रि के आखिरी दिन यानी महानवमी तिथि पर सिद्ध कुंजिका स्तोत्र का पाठ जरूर करना चाहिए, चलिए हम आपको बताते हैं कि इस स्तोत्र का पाठ कैसे किया जाता है और इसका क्या महत्व है, तो चलिए जानते हैं।

सिद्ध कुंजिका स्तोत्र का महत्व

यह स्तोत्र समस्त भौतिक और आध्यात्मिक सिद्धियों की प्राप्ति का द्वार खोलता है। इस स्तोत्र का जाप करने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं। यह स्तोत्र धन-संपत्ति और समृद्धि प्राप्ति में सहायक होता है। यह स्तोत्र ग्रहों के दोषों को दूर करता है और शुभ फल प्रदान करता है। यह स्तोत्र शत्रुओं पर विजय प्राप्ति में सहायक होता है। यह स्तोत्र भय और चिंता से मुक्ति दिलाता है।

Continue Reading

About Author
भावना चौबे

भावना चौबे

इस रंगीन दुनिया में खबरों का अपना अलग रंग होता है, यह इतना चमकदार रंग होता है कि सभी की आंखें खोल देता है। यह कहना बिल्कुल गलत नहीं होगा की कलम में बहुत ताकत होती है, इस कलम की ताकत को बरकरार रखने के लिए हर रोज पत्रकारिता के नए-नए पहलुओं को समझती और सीखती हूं। मैंने श्री वैष्णव इंस्टिट्यूट ऑफ़ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन से बीए स्नातक किया। मैं अब आगे इसी विषय में DAVV यूनिवर्सिटी से स्नाकोत्तर कर रही हूं। मेरा पत्रकारिता का यह सफर अभी शुरू ही हुआ है। मुझे कंटेंट राइटिंग, कॉपी राइटिंग, वॉइस ओवर का अच्छा ज्ञान है। मुझे मनोरंजन, जीवनशैली, धर्म इन विषयों पर लिखना अच्छा लगता है।