नवरात्रि में माँ दुर्गा के खास भोग, देखिए क्या चढ़ाए जगतजननी को इन नौ दिनों में

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मां अंबे को प्रसन्न करने के पवित्र दिन नवरात्रि आरंभ होने जा रहे हैं। इन 9 दिनों में मां को हर दिन एक विशेष प्रसाद से प्रसन्न किया जा सकता है। भक्त यू तो साल भर माँ दुर्गा और उनके अलग अलग रूपों को पूजते है लेकिन माना जाता है कि इन नौ दिनों में माँ दुर्गा अपने परिवार सहित धरती पर आती है,यही कारण है कि भक्त इन नौ दिनों में उनके स्वागत और सत्कार में कोई कमी नही छोड़ना चाहते, उन्हें भोग में क्या पसंद कौन सा रंग पसंद है, किस तरह का श्रृंगार पसंद है, इन सभी बातों का खास खयाल रखा जाता है। आइए हम बात करते है इन नौ दिनों में माँ को लगने वाले भोग की।

नवरात्रि में करें यह विशेष उपाय, शनि साढ़े साती और शनि ढैय्या से मिलेगी राहत

प्रथम नवरात्रि के दिन मां के चरणों में गाय का शुद्ध घी अर्पित किया जाता है,कहते है ऐसा करने से आरोग्य का आशीर्वाद मिलता है। दूसरे नवरात्रि के दिन मां को शक्कर का भोग लगाना चाहिए इसे घर में सभी सदस्यों को देंना चाहिए। इससे आयु वृद्धि होती है। तृतीय नवरात्रि के दिन दूध या दूध से बनी मिठाई खीर का भोग मां को लगाकर ब्राह्मण को दान करना चाहिए। इससे दुखों की मुक्ति होकर परम आनंद की प्राप्ति होती है। मां दुर्गा को चौथी नवरात्रि के दिन मालपुए का भोग लगाना चाहिए और मंदिर के ब्राह्मण को दान देंना चाहिए। जिससे बुद्धि का विकास होने के साथ-साथ निर्णय शक्ति बढ़ती है।

Navratri 2021: मां दुर्गा के 9 रुपों की महिमा है बड़ी निराली, जानें विशेष आध्यात्मिक महत्व

 

नवरात्रि के पांचवें दिन मां को केले का नैवेद्य चढ़ाने से शरीर स्वस्थ रहता है। छठवीं नवरात्रि के दिन मां को शहद का भोग लगाना चाहिए। जिससे आपके आकर्षण शक्ति में वृद्धि होती है। नवरात्रि के सातवें दिन मां को गुड़ का नैवेद्य चढ़ाने व उसे ब्राह्मण को दान करने से शोक से मुक्ति मिलती है एवं आकस्मिक आने वाले संकटों से रक्षा भी होती है। नवरात्रि के आठवें दिन माता रानी को नारियल का भोग लगाना चाहिए व नारियल का दान करना चाहिए। इससे संतान संबंधी परेशानियों से छुटकारा मिलता है। नवरात्रि की नवमी के दिन तिल का भोग लगाकर ब्राह्मण को दान देंना चाहिए। इससे मृत्यु भय से राहत मिलती है। साथ ही अनहोनी घटनाओं से बचाव भी होता है।।