शादी से पहले कटरीना ले रही हैं खास डाइट, जानिए दुल्हन बनने से पहले क्या हैं इस डाइट के फायदे।

शादी से चंद दिन पहले इस डाइट को फॉलो करने से क्या फायदा होगा? क्या कुछ नुकसान भी हो सकते हैं? वेट लॉस के लिए इस डाइट को फॉलो करने की सोच रहे हैं तो उससे पहले इस तरह के सवालों के जवाब जान लेना ही मुनासिब होगा।

जीवनशैली, डेस्क रिपोर्ट। कटरीना कैफ बहुत जल्द विक्की कौशल की दुल्हनियां बनना चाहती हैं। वैसे तो कटरीना खूबसूरती और फिटनेस के मामले में किसी स्तर पर कम नहीं है, लेकिन शादी के अरमान ऐसे हैं कि कटरीना को ज्यादा सुंदर और फिट दिखने पर मजबूर कर रहे हैं। हाल ही में कटरीना कैफ जिम से बाहर निकलती हुई स्पॉट हुईं , उसके बाद से उनके फिटनेस और डाइट रूटिन पर लोगों की नजरें टिक गईं। पता चला कि शादी से पहले कटरीना कैफ ने कार्बोहाइड्रेट्स खाने बंद कर दिए हैं , इस डाइट की वजह क्या है?

शादी से पहले कटरीना ले रही हैं खास डाइट, जानिए दुल्हन बनने से पहले क्या हैं इस डाइट के फायदे।

शादी से चंद दिन पहले इस डाइट को फॉलो करने से क्या फायदा होगा? क्या कुछ नुकसान भी हो सकते हैं? वेट लॉस के लिए इस डाइट को फॉलो करने की सोच रहे हैं तो उससे पहले इस तरह के सवालों के जवाब जान लेना ही मुनासिब होगा।

क्लीन डायट पर कटरीना
कटरीना शादी से पहले क्लीन डायट पर है। इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार कटरीना ने अपनी डाइट से कार्बोहाइड्रेट बिलकुल हटा दिए है। तेजी से वजन घटाने के लिए ये डाइट ली जाती है। इसमें प्रोटीन की मात्रा बढ़ाई जाती है जबकि कार्ब्स एकदम खत्म या बहुत कम कर दिए जाते हैं।

हरी सब्जियां और सूप
ये डाइट थोड़ी मुश्किल है, अगर आप फिटनेस फ्रीक हैं तो ही इस डाइट को अपनाने की कोशिश करें। कटरीना जैसे फिटनेस के लिए पाबंद लोगों के लिए ये डाइट ज्यादा मुश्किल नहीं है। इस डाइट में काब्रोहाइड्रेट्स तो न के बराबर हो ही जाते हैं , ग्लूटेन और शक्कर से बनी चीजें खाना भी बिलकुल मना होता है। आसान भाषा में समझें तो ऐसी चीजें जो पेट में जाकर हजम करने में थोड़ी भारी हों उसे खाना मना है। नो कार्ब्स डाइट में सिर्फ हरी सब्जियां, सूप और सलाद जैसी हेल्दी चीजें ही खाने की छूट होती है।

क्या खाएं, क्या नहीं
इस डाइट में वजन तेजी से कम होता है, इसकी वजह यही है कि इसमें कार्बोहाइड्रेट वाला हर फूड आइटम खाना मना होता है। इसमें होल ग्रेन, फल, दूध के अलावा कई तरह की सब्जियां शामिल होती हैं जिन्हें नहीं खाया जा सकता है। ऐसी वस्तुएं जिसमें भरपूर प्रोटीन होता है जैसे मांस, मछली, अंडा, टोफू जैसे खाद्य पदार्थ इस डाइट में लिए जाने की छूट होती है। कुछ ऐसे फूड आइटम जिसमें स्टार्च बहुत कम पाया जाता है ऐसी वस्तुएं भी इसमें खाई जा सकती हैं। मेवे, नारियल, एवोकाडो और अलग अलग तरह की बीजें जिसमें चिया, कद्दू के बीज और सूरजमुखी की बीजें इसमें शामिल हैं।

डाइट के फायदे और नुकसान
इस डाइट का फायदा ये है कि इससे वजन विजिबली कम होता है, चेहरा हल्का नजर आता है, शरीर का भारीपन भी कम लगता है। हालांकि कई डाइटीशियन इस डाइट की इजाजत नहीं देते हैं, उनके मुताबिक शरीर की एनर्जी के लिए कार्बोहाइड्रेट लेना बहुत जरूरी है, कार्बज बंद करने का असर मूड पर भी पड़ता है, इस वजह से ज्यादा चिड़चिड़ापन हो सकता है। ये भी हो सकता है कि डाइट छोड़ने के बाद कार्बोहाइड्रेट की क्रेविंग बढ़ जाए जिस वजह से वजन तेजी से बढ़ने लगे।