कब है दुर्गाअष्टमी , जानिए शुभ मुहूर्त और पूजा की विधि

डिजिटल डेस्क,भोपाल। हिंदू धर्म के अनुसार प्रत्येक माह की शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि को मासिक दु्र्गाष्टमी मनाई जाती है। मासिक दुर्गाष्टमी को मास दुर्गाष्टमी और महाष्टमी के नाम से भी जाना जाता है। माघ मास की दुर्गाष्टमी 20 फरवरी 2021 (शानिवार)को पड़ रही है। वैसे तो नवरात्रि के समय पड़ने वाली दुर्गाष्टमी को महाष्टमी होती है, लेकिन हर माह आने वाली यह दुर्गा अष्टमी पर भी मां दुर्गा का पूजन और व्रत किया जाता है। माना जाता है इस दिन व्रत रखने से घर में खुशियां आती है।
आइए जाने कैसे करे व्रत,क्या है दुर्गा अष्टमी का शुभ मुहूर्त।

माघ मास दुर्गाष्टमी का शुभ मुहूर्त-
माघ शुक्ला अष्टमी आरंभ- 19 फरवरी 2021 दिन शुक्रवार सुबह 10 बजकर 58 मिनट से
माघ शुक्ला अष्टमी समाप्ति- 20 फरवरी 2021 दिन शनिवार दोपहर 01 बजकर 31 मिनट पर
इस माह मासिक दुर्गा अष्टमी 20 फरवरी को मनाई जाएगी।

मासिक दुर्गाष्टमी व्रत पूजा विधि-
इस दिन सुबह जल्दी उठकर दैनिक क्रिया से निवृत्त होने के बाद स्नान करके शुद्ध हो जाएं। स्नान के बाद लाल वस्त्र धारण करना बहुत शुभ माना गया है।  इसके बाद घर की साफ-सफाई कर पूजा स्थान और घर में गंगाजल छिड़कें। लकड़ी का एक साफ पाटा या चौकी लेकर उसपर लाल वस्त्र बिछाएं और उसे भी गंगाजल से शुद्ध करें और माँ दुर्गा की प्रतिमा या तस्वीर को स्थापित कर उनके समक्ष धूप दीप जलाएं और उन्हें अक्षत, सिन्दूर और लाल पुष्प अर्पित करें।
फल और मिठाई को अर्पित करने के बाद माां दुर्गा की आरती उतारें।
इस दिन दुर्गा चलीसा का पाठ करना बहुत अच्छा माना गया है।

इन बातों का रखे विशेष ध्यान
पूजा करते समय ध्यान रखे कि पूजा में तुलसी, आंवला, दूर्वा, मदार और आक के पुष्प का इस्तेमाल न हो। साथ ही इस बात का भी ध्यान रखे कि घर में कभी एक से अधिक मां दुर्गा की प्रतिमा या फोटो नहीं रखना चाहिए।