अशोकनगर, हितेंद्र बुधौलिया। यूं तो सरकारी अस्पतालों (government hospitals) में बड़ी-बड़ी सुविधायों के देने का सरकारी ढिंढोरा खूब पीटा जाता है। मगर कई छोटी मगर बहुत जरूरी सुविधायों पर ध्यान नहीं दिया जाता। अशोकनगर (Ashoknagar) जिला अस्पताल में प्रसूताओं को डिलेवरी के बाद अक्सर गर्म पानी की आवश्यकता पड़ती है। इसके लिये उन्हें परेशान होना पड़ता है। खासकर बाहर से आई महिलाओं के परिजन आसपास की होटलों से 10-20 रुपये में पानी गर्म करवाते है। बीते दिनों एक समाजसेवी ग्रुप GST ने इस मुद्दे को सोशल मीडिया पर उठाया था। तो समाज सेवी राशिद खान चिन्ना पार्षद ने अपनी और अस्पताल में गर्मपानी की मशीन लगबाई है।

यह भी पढ़ें…Khargone : स्कूल भवन में लापरवाही आई सामने, आगे कर दी पुताई, पीछे का हिस्सा खंडहर

पार्षद चिन्ना ने बताया कि इस मशीन के लगने ने डिलेवरी के लिये भर्ती हुई महिलाओं के लिये गर्म पानी के लिये परेशान नहीं होना पड़ेगा। ये ऑटोमेटिक मशीन है। जिसमें पानी सिर्फ उतना ही गर्म होगा जिसे आसानी से पिया जा सके। साथ ही यह मशीन यहां भर्ती होने वाली महिलाओं को गर्म पानी की पूर्ति होती रहेगी। वार्ड क्रमांक 10 के पार्षद राशिद खान चिन्ना द्वारा आज जिला चिकित्सालय अशोकनगर में डिलीवरी वार्ड जहां पर महिलाएं भर्ती रहती हैं वहाँ गर्म पानी की मशीन लगवायी गयी। इस मशीन के लगने के बाद यहां भर्ती महिलाओं के लिये जितना जरूरी है उतना पानी मिलता रहेगा। पार्षद चिन्ना ने आने खर्च पर यह मशीन इंदौर में मंगवा कर अस्पताल में लगवायी है। इसकी देख रेख भी ज्यादा नहीं करना रहेगा। इसको इस तरह से बनवाया गया है कि इसमें सिर्फ उतना गर्म पानी निकले जो कि पीने योग्य रहे। साथ ही फ़िल्टर भी लगाया गया है जिससे शुद्ध और साफ पानी मरीजों को मिल सके।