कलेक्टर से बोले कांग्रेस विधायक-कलेक्ट्रेट पर बीजेपी झंडा लगवा दें, लेकिन शहर की खुशियां लौटा दें

आपकी मंशा हो तो कलेक्ट्रेट पर और  कंट्रोल कमांड सेंटर पर बीजेपी का झंडा लगा दें,लेकिन शहरवासियों को प्राणवायु ऑक्सीजन उपलब्ध कराएं । उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से ग्वालियर की तरफ देखने की गुहार लगाई है।  

congress

ग्वालियर, अतुल सक्सेना।  ग्वालियर (Gwalior) के कांग्रेस विधायकों (Congress MLA) ने जिला प्रशासन की कार्य शैली पर नाराजगी जताई है। कांग्रेस के दो विधायकों ने कलेक्टर (Collector) से नाराज होकर कहा कि आप चाहो तो कलेक्ट्रेट पर और कंट्रोल कमांड सेंटर पर बीजेपी का झंडा लगा दो हमें आपत्ति नहीं होगी, बस ग्वालियर (Gwalior) की खुशियां लौटा दो। दरअसल शुक्रवार को ग्वालियर (Gwalior) के अस्पतालों में हुई ऑक्सीजन (Oxygen) की कमी ने प्रशासन से लेकर जन प्रतिनिधियों तक को चिंता में डाल दिया है।  सरकारी स्तर से लेकर व्यक्तिगत स्तर तक सब प्रयास कर रहे हैं कि ग्वालियर (Gwalior) के लोगों की जिंदगी से हो रहा खिलवाड़ बच जाये, उनकी सांसों पर आया संकट टल  जाये लेकिन अभी हालात पूरी तरह से सामान्य नहीं हुए हैं।

ग्वालियर (Gwalior) में शुक्रवार से शुरू हुआ दहशत का साया शनिवार को थोड़ा छटा जरुर हुआ लेकिन पूरी तरह ख़त्म नहीं हो पाया। शनिवार को भी कुछ निजी अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी के चलते अफरा तफरी मची रही, हालाँकि प्रशासन ने जैसे तैसे इसे नियंत्रित किया।

ये भी पढ़ें – दिल्ली हाईकोर्ट की तल्ख टिप्पणी- ऑक्सीजन सप्लाई रोकने वालों को फांसी पर लटका देंगे

लेकिन कांग्रेस के दो विधायकों ने जिला प्रशासन की कार्य शैली पर सवाल खड़े किये हैं।  शुक्रवार शाम से निजी अस्पतालों में ऑक्सीजन ख़त्म होने के बाद मचे हाहाकार से लेकर देर रात तक JAH के ICU में ऑक्सीजन ख़त्म होने के बाद परिजनों की अटकी सांसों के वक्त प्रशासन के साथ मौजूद रहे ग्वालियर दक्षिण विधानसभा के कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक और ग्वालियर पूर्व विधानसभा के कांग्रेस विधायक डॉ सतीश सिंह सिकरवार ने प्रशासन की कार्य शैली पर सवाल खड़े किये हैं।

ये भी पढ़ें – कोरोना में मर गई समाज की संवेदनाएं, प्रशासन ने कराया महिला का अंतिम संस्कार

शुक्रवार की देर रात विधायक प्रवीण पाठक (Congress MLA Praveen Pathak)ने कोरोना कंट्रोल कमांड सेंटर के बाहर कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह से कहा कि आज हालात ये हैं कि हम या आप एक मरीज प्राइवेट अस्पताल में भर्ती नहीं करा सकते।  पब्लिक ने हमें क्यों चुना है? ये हो क्या रहा है। प्राइवेट अस्पताल वाले मरीज़ों को भगा रहे हैं। क्या शहर में पूरे प्राइवेट अस्पताल बीजेपी वालों? आपको बैठक करानी थी कांग्रेस को भी बुला लेते। हो सकता है हमारे भी कुछ परिचित निकल आते।  आपको जो करना है करो , कंट्रोल कमांड सेंटर से लेकर कलेक्ट्रेट तक बीजेपी का झंडा लगा दो बस शहर को सफर नहीं होने दो , ग्वालियर की खुशियां लौटा दो।

उधर कांग्रेस विधायक सतीश सिंह सिकरवार (Congress MLA Satish Singh Sikarwar)ने भी शनिवार को पत्रकारों के सामने ग्वालियर (Gwalior) के बिगड़ते हालात पर चिंता जताई। कांग्रेस विधायक सतीश सिंह सिकरवार (Congress MLA Satish Singh Sikarwar) ने कहा कि ग्वालियर के हालात बहुत खराब हो चुके हैं । अस्पतालों में जगह नहीं है, आक्सीजन नहीं है। किसी को अस्पताल में भर्ती नहीं करा सकते। हम जन प्रतिनिधियों की भी नहीं सुन रहा जिला प्रशासन। कांग्रेस विधायक सतीश सिंह सिकरवार (Congress MLA Satish Singh Sikarwar) ने भी  ने भी विधायक प्रवीण पाठक (Congress MLA Praveen Pathak) वाली बात दोहराई कि और प्रशासन से कहा कि  आपकी मंशा हो तो कलेक्ट्रेट पर और  कंट्रोल कमांड सेंटर पर बीजेपी का झंडा लगा दें,लेकिन शहरवासियों को प्राणवायु ऑक्सीजन उपलब्ध कराएं । उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से ग्वालियर की तरफ देखने की गुहार लगाई है।