बालाघाट : लॉटरी के नाम पर ऑनलाईन ठगी करने वाले यूपी के 4 आरोपी गिरफ्तार

पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला पंजीबद्ध कर लिया हैं।

बालाघाट, सुनील कोरे। जिले के विभिन्न थाना क्षेत्रो में ऑनलाईन धोखाधड़ी एवं मोबाईल से लॉटरी लगने के नाम पर लोगों से रुपए ऐंठने वाले आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया हैं और पुलिस ने आरोपियों से सामान भी बरामद कर लिया है साथ ही पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला पंजीबद्ध कर लिया हैं।

यह भी पढ़े…Video : ऊर्जा मंत्री ने महिला से क्यों कहा, मेरे गाल पर एक थप्पड़ मार दो, पढ़िए पूरी खबर

हम आपको बता दें कि पुलिस अधीक्षक के मार्गदर्शन में उप पुलिस अधीक्षक आदित्य मिश्रा के नेतृत्व में थाना बैहर और मलाजखंड पुलिस की टीम बनाकर बैहर में दर्ज महिला शहनाज खान के साथ 25 लाख रूपये की लॉटरी लगने के नाम पर झांसा देकर डेढ़ लाख की ऑनलाईन ठगी कर ली गई इस पूरे मामले की जांच करते हुए टीम ने इलेक्ट्रानिक साक्ष्य, मोबाईल साक्ष्य, बैंक दस्तावेजों की मदद से उत्तरप्रदेश के जालौन जिला अंतर्गत कालपी के चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जिनके पास से टीम ने घटना में प्रयुक्त एंड्राईड मोबाईल फोन, की-पेड मोबाईल, सिम और नगद राशि बरामद की है। पुलिस को उम्मीद है कि आरोपियों से पूछताछ में मध्यपदेश सहित अन्य राज्यों राजस्थान, उत्तरप्रदेश एवं अन्य राज्यो में हुई ऑनलाईन धोखाधड़ी का पता चल सकता है।

यह भी पढ़े…नई भूमिका में एसपी, युवाओं को पुलिस और सेना भर्ती के लिए देंगे ट्रेनिंग

उपपुलिस अधीक्षक आदित्य मिश्रा की मानें तो आम जनता की अज्ञानता का फायदा उठाकर आरोपी ऐसे लोगों को टारगेट करते थे, जिन्हें पता नहीं होता था कि सीधे लॉटरी लगती है। जो फर्जी सिम, फर्जी मोबाईल के माध्यम से कॉल लगाते थे और उन्हें लाखो रूपये की लॉटरी का झांसा देकर अपनी बातो में बहला फुसलाकर ग्राहक सेवा केन्द्र कलपी या आसपास के ग्राहक सेवा केन्द्रो तथा अन्य लोगों के पेटीएम में लॉटरी का पैसा भिजवाने, और कभी चार्ज के नाम पर अलग-अलग राशि मंगवाकर धोखाधड़ी करते थे और ग्राहक सेवा केन्द्र में आई राशि को निकालकर आपस में बांट लेते। पुलिस को आरोपियों से पूछताछ में पता चला है कि आरोपी अपनी अयाशी, महंगे मोबाईल, गाड़ियों में घूमने में फ्राड से मंगाई गई राशि का उपयोग करते थे।

यह भी पढ़े…Government Jobs 2022 : 10वीं पास वालों के लिए रेल्वे में निकली भर्ती

महिला से ऑनलाईन डेढ़ लाख रूपये के फ्राड मामले में पुलिस ने उत्तरप्रदेश के कानपुर देहात जिला के देवराहट थाना अंतर्गत भोगनीपुर तहसील के बिल्हापुर पोस्ट में ग्राम चैनका निवासी 40 वर्षीय अवधेश कुमार उर्फ आशुतोष यादव पिता भूपसिंह यादव, जिला जालौन के कालपी थाना अंतर्गत लमसर के तिरही निवासी 30 वर्षीय पर्वतसिंह पाल पिता रामप्रकाश पाल, कलपी थाना अंतर्गत सिमहरा के ग्राम रिछारा निवासी 25 वर्षीय आशीष पिता शिवकुमार यादव और लमसर के ग्राम तिरही निवासी 31 वर्षीय रोहित कुमार उर्फ लाला यादव पिता लोकराम यादव को गिरफ्तार किया है। जिनके पास से पुलिस ने 3 एंड्रायड मोबाईल, 3 की-पेड मोबाईल, 20 हजार रूपये नगद और 9 सिम कार्ड बरामद किये है। इस कार्यवाही में निरीक्षक जयपाल इनवाती, उपनिरीक्षक जितेन्द्रसिंह जादौन, अंबरसिंह सिकरकवार, एएसआई अयूब खान, आरक्षक उमेश मालवीय, परीक्षित जादौन, सम्पतसिंह उइके एवं सायबर सेल बालाघाट की भूमिका सराहनीय रही है।