Balaghat News : दुष्कर्मी को आजीवन और सहयोगी महिला को पांच वर्ष का कारावास

Amit Sengar
Published on -
hammer

Balaghat Court News : बालाघाट न्यायालय के माननीय विशेष न्यायाधीश (पॉक्सो एक्ट) मनोज कुमार तिवारी की अदालत ने आरक्षी केन्द्र किरनापुर के नाबालिक के साथ दुष्कर्म मामले में आरोपी रजेगांव चौकी अंतर्गत बटरमारा निवासी 33 वर्षीय प्रियानंद उर्फ नंदू पिता देवदार डोंगरे को आजीवन एवं सहयोगी महिला 19 वर्षीय शालिनी पिता राजेश डोंगरे को पांच वर्ष के कारावास की सजा और 13 हजार रूपये के अर्थदंड से दंडित करने का आदेश दिया है। मामले में अभियोजन की ओर से विशेष लोक अभियोजक श्रीमती आरती कपले ने पैरवी की थी।

यह है पूरी घटना

मीडिया प्रभारी सहायक जिला अभियोजन अधिकारी विमलसिंह ने बताया कि 9 जुलाई 2021 की शाम करीब 7.30 बजे नाबालिक किराना दुकान में जाने के लिए घर से निकली थी। जिसके वापस नहीं आने पर परिजनों ने उसकी गांव और रिश्तेदारी में तलाश की। जिसके बाद परिजनों ने 10 जुलाई को उसके अपहरण की शिकायत दर्ज कराई थी। जिसमें पुलिस ने अपहरण का मामला दर्ज कर विवेचना में लिया था। मामले की विवेचना कर रही पुलिस ने अपह्रता नाबालिक को घटना के एक सप्ताह बाद दस्तयाब किया।

Continue Reading

About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”