Balaghat News : कायदी गोलीकांड का पुलिस ने किया खुलासा, दो आरोपी गिरफ्तार

पुलिस ने एक पिस्टल, एक देशी कट्टा, दो नग पिस्टल मैगजीन और एक जिंदा कारतूस, दो नग देशी कट्टा के जिंदा कारतूस बरामद किए है।

balaghat news

Balaghat News : मध्य प्रदेश के बालाघाट जिले में 04 जून को कायदी में हुए गोलीकांड में पुलिस ने दोनों ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। जिनके पास से पुलिस ने एक पिस्टल, एक देशी कट्टा, दो नग पिस्टल मैगजीन और एक जिंदा कारतूस, दो नग देशी कट्टा के जिंदा कारतूस बरामद किए है।

क्या है पूरा मामला

कायदी में हुए गोलीकांड में आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद कंट्रोल रूम में पुलिस ने मामले को लेकर प्रेसवार्ता की। जहां एडीएसपी विजय डावर ने बताया कि घायल के आरोपी महेश उर्फ छोटु बनोटे की पत्नी से अवैध संबंध थे। जिसकी जानकारी के बाद महेश और उसकी पत्नी में खटास पैदा हो गई और महेश ने पत्नी को उसके मायके भिजवा दिया था। जिसमें पत्नी ने पति महेश उर्फ छोटु बनोटे के खिलाफ भरण पोषण का वाद दायर किया है, जिसका मामला कोर्ट में विचाराधीन है।

पत्नी के साथ अवैध संबंधों की जानकारी के बाद से महेश उर्फ छोटु बनोटे, राकेश लिल्हारे को लेकर रंजिश रखता था। चूंकि दोनो के मकान आमने-सामने होने और अवैध संबंधों को लेकर डांट पास होने से महेश उर्फ छोटु बनोटे के मन में आक्रोश पनप रहा था। वह किसी भी तरह राकेश लिल्हारे को सबक सिखाना चाहता था। चूंकि महेश, जेसीबी चालक था। जिससे वह अलग-अलग जगह जेसीबी चलाने जाते थे। इसी काम के चलते उसकी पहचान बिहार के मिनत्तुल्ला शेख उर्फ आर्यन से हुई। दोनो में अच्छी दोस्ती होने के बाद महेश ने पत्नी के साथ राकेश के अवैध संबंधों के बारे में मिनत्तुल्ला शेख उर्फ आर्यन को बताया। जिसके बाद दोनो ने राकेश को मार डालने की साजिश रची और महेश उर्फ छोटु की पैसो की मदद से मिनत्तुल्ला शेख उर्फ आर्यन ने बिहार से पिस्टल और देशी कट्टा लेकर आया। 04 जून को जब राकेश लिल्हारे, अपनी पत्नी को लेकर बालाघाट चिकित्सक के यहां आने निकला था। तब रास्ते में महेश उर्फ छोटु और उसके साथी ने उसे रोका और विवाद किया। जिसके बाद महेश और साथी आगे निकल गए, लेकिन राकेश ना जाकर वापस घर आया। जहां फिर राकेश और महेश उर्फ छोटु के बीच विवाद होने लगा। इस दौरान लोग भी जमा हो गए। घटना की जानकारी डायल 100 को भी दी। इसी बीच जब तक डायल 100 पहुंचती, महेश उर्फ छोटु ने पिस्टल से राकेश पर हमला कर दिया और घर में घुसकर पीछे से फरार हो गए।

घायल की हालत गंभीर

गोली लगने से घायल राकेश लिल्हारे को अविलंब ही वारासिवनी अस्पताल ले जाया गया। जहां से उसे जिला चिकित्सालय और फिर नागपुर के किंग्स हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। जहां उसका ऑपरेशन तो गया है लेकिन महेश की पिस्टल से चली गोली, अब भी उसके शरीर में ही है। पुलिस की मानें तो चिकित्सकों का कहना है कि गोली, राकेश के दिल के पास है, यदि उसे निकालने का प्रयास किया जाता है तो दिल के पास गोली होने से उसके साथ कोई भी घटना हो सकती है। फिलहाल घायल राकेश की हालत गंभीर है, जिस पर चिकित्सक नजर बनाए हुए है।

प्रेसवार्ता में एडीएसपी विजय डावर ने बताया कि मामले की विवेचना जारी है, पुलिस बिहार से पिस्टल और देशी कट्टा लाने वाले आरोपी मिनत्तुल्ला शेख उर्फ आर्यन से भी पूछताछ कर रही है कि उसने यह हथियार किससे लाया है। प्रेसवार्ता में वारासिवनी एसडीओपी अभिषेक चौधरी, वारासिवनी थाना प्रभारी बीभेन्दु व्यंकट टांडिया और उपनिरीक्षक पवन यादव मौजूद थे। पुलिस की मानें तो यदि आरोपियों को जल्द नहीं पकड़ा जाता तो आरोपी बिहार भागने की फिराक में थे। गोलीकांड से सनसनी मचाने वाले आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके पास से हथियार बरामद करने की गई कार्यवाही में थाना प्रभारी बीभेन्दु व्यंकट टांडिया, उनि. पवन यादव, एएसआई महेलसिंह धुर्वे, तरूण सोनेकर, सत्यशिला वासनिक, प्रआर. दारासिंह बघेल, शाहिद परवेज खान, आरक्षक हेमंत बघेल, पप्पू उईके, शिवदत्त शर्मा, सुजीत कोटांगले, दिनेश गेडाम, मआर. राधिका, शारदा, सायबर सेल प्रआर. शोभेन्द्र डहरवाल की भूमिका सराहनीय रही।

बालाघाट से सुनील कोरे की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है।वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News