Balaghat News : आभूषण व्यवसायी को गोली मारकर लूटपाट करने वाले 3 आरोपी गिरफ्तार, माल बरामद, सामान बरामद

योजनाबद्व तरीके से दिया था घटना को अंजाम, चोरी में एक आरोपी के पकड़े जाने से खुला राज

Amit Sengar
Published on -
balaghat news

Balaghat News : मध्य प्रदेश के बालाघाट जिले की बिरसा थाना क्षेत्र में 09 जून को शाम 06 बजे अजगरा और मानेगांव के बीच ज्वेलरी व्यापारी को गोली मारकर की गई लाखों रूपए के सोने और चांदी की लूट मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों बैहर कंपाउंड टोला निवासी पार्थ उर्फ बिट्टु पिता दिलीपसिंह ठाकुर, मोहबट्टा निवासी सूरज उर्फ नोना कुमरे पिता राकेश कुमरे और बस्ती रोड बैहर निवासी सुनार अनिल पिता तारेन्द्र सोनी को गिरफ्तार किया है। जिनके पास से 9 किलोग्राम चांदी के जेवरो को गलाकर बनाई गई 8.415 ग्राम सिल्ली, 150 ग्राम सोने में 48.330 ग्राम सोने-चांदी के जेवर, कार, बाइक, मोबाइल, सोना गलाने की मशीन, घटना में प्रयुक्त किया गया 315 बोर का देशी कट्टा और एक जिंदा कारतूस बरामद किया है।

क्या है पूरा मामला

पुलिस की मानें तो आरोपी आदतन अपराधी और अंतर्राज्यीय लूटेरे है, जिन्होंने प्रदेश सहित छत्तीसगढ़ में भी लूट की घटनाओं को अंजाम दिया है। 09 जून को ज्वेलरी व्यापारी भोलेश्वर सोनकर के बिरसा बाजार से लौटते समय व्यापारी को गोली मारकर की गई लूट में गिरफ्तार किए गए आरोपियों को लेकर आयोजित प्रेसवार्ता में पुलिस अधीक्षक समीर सौरभ ने बताया कि घटना को अंजाम देने के पहले, व्यापारी से लूट की तीनों आरोपियों ने योजना बनाई। जिसके बाद व्यापारी की रैकी कर दो आरोपियों ने बंदूक की नोक पर व्यापारी से लूट की वारदात को अंजाम दिया था। इस दौरान व्यापारी के अपने बचाव को लेकर किए गए संघर्ष में आरोपी ने उसके पैर में गोली मार दी थी। जिसके बाद व्यापारी से सोने-चांदी के गहने लेकर लूटकर आरोपी पार्थ उर्फ बिट्टु और सूरज उर्फ नोना फरार हो गए थे। जिन्हें बाद में सुनार अनिल सोनी ने कार में अपने साथ ले लिया। जिनके पास से लूटे गए गहनों को उसने सोना गलानी वाली मशीन में चांदी को गलाकर उसकी सिल्लियां बनाया और कुछ सोने को गलाने अन्य लोगों को दिया।

balaghat news

मामले को गंभीरता से लेकर पुलिस ने लगभग 10 से ज्यादा टीमें जांच के लिए गठित की और फिर एडीएसपी विजय डावर, के.एल. बंजारे, एसडीओपी अरविंद शाह के नेतृत्व में अलग-अलग टीमे, मामले को सुलझाने में जुट गई। इसी दौरान सूरज उर्फ नोना कुमरे, बैहर में हुई एक चोरी के मामले में पकड़ा गया। जिससे पूछताछ में पुलिस को बिरसा में हुइ ज्वेलरी व्यापारी की घटना का सुराग मिला। फिलहाल तीनो ही आरोपियों को गिरफ्तार, पुलिस ने आरोपियो के पास से 19 लाख रूपए से ज्यादा का चोरी का सामान और अन्य सामग्री बरामद की है। पुलिस ने बुधवार को आरोपियों को न्यायालय में पेश किया और आरोपियों को पीआर पर लिया है।

पुलिस अधीक्षक समीर सौरभ ने बताया आरोपियों से मिली देशी कट्टे और लगभग 100 ग्राम सोने की बरामदगी को लेकर पूछताछ की जाएगी। इस अंधे सनसनीखेज मामले को सुलझाने में बिरसा, बैहर, रूपझर, मलाजखंड थाना, चौकी सालेटेकरी, मछुरदा और सायबर सेल के पुलिस अधिकारियों ओर कर्मचारियो की भूमिका सराहनीय रही।

बालाघाट से सुनील कोरे की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News