19 दिन में बालाघाट पुलिस को मिली तीसरी बड़ी सफलता, 12 लाख का ईनामी नक्सली ढ़ेर

Balaghat News : प्रदेश में नक्सलियों के खिलाफ चलाये जा रहे अभियान के तहत बालाघाट पुलिस और हॉकफोर्स को तीसरी बड़ी सफलता मिली है। यहां एनकाउंटर में एक नक्सली को मार गिराया है। नक्सली रूपेश पर 12 लाख का इनाम घोषित था। यह नक्सली कबीर उर्फ सुरेंद्र का गार्ड था। हॉक फोर्स और जिला पुलिस के जवानों ने यह कार्रवाई की है।

यह है पूरी घटना

बता दें कि 30 की सुबह लगभग 11 बजे जिले के गढ़ी थाना क्षेत्र अंतर्गत हॉकफोर्स और नक्सलियों के बीच सुपखार और मोतीनाला के जामसेरा फारेस्ट चौकी के पास मुठभेड़ में तीन राज्य मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र के लगभग 32 लाख ईनाम के दो बड़े नक्सलियों भोरमदेव एरिया कमेटी कमांडर और जोन समन्वयक टीम प्रभारी सुकमा जिले के भेज्जी थाना अंतर्गत पालगुडेम निवासी 19 वर्षीय राजेश उर्फ नंदा वंजाम और नक्सली महाराष्ट्र गढ़चिरोली जिले के कासनसुर थाना अंतर्गत नरगुड़ा निवासी 27 वर्षीय गणेश को मार गिराया था। जिसके बाद 18 दिसंबर रविवार की सुबह रूपझर थाना अंतर्गत पाथरी चौकी के हर्राटोला के जंगल में बालाघाट पुलिस के साथ नक्सली उन्मूलन में लगे हॉकफोर्स की टीम ने मुठभेड़ में कान्हा भोरमदेव के सक्रिय नक्सली कबिर उर्फ सुरेन्द्र के सुरक्षागार्ड 12 लाख के ईनामी नक्सली रूपेश को मार गिराया है। दक्षिण बस्तर निवासी ईनामी नक्सली रूपेश को मार गिराने के बाद बालाघाट पुलिस और हॉकफोर्स का हौंसला बढ़ा है। वहीं नक्सलियों में भय देखा जा रहा है।

19 दिन में बालाघाट पुलिस को मिली तीसरी बड़ी सफलता, 12 लाख का ईनामी नक्सली ढ़ेर

बताया जाता है कि जंगल में सर्चिंग के दौरान सुरक्षाबलों की आहट पाकर नक्सलियों ने जान से मारने की नियत से सुरक्षाबलों पर फायरिंग शुरू की। जिसके जवाब में हॉक फोर्स और जिला बल के जवानो ने बहादुरी के साथ लड़ते हुए एक नक्सली को मार गिराया है। संभावना व्यक्त की जा रही है कि इस मुठभेड़ में और भी नक्सली घायल हो सकते है। घटना के बाद से जंगल में सघन तलाश जारी है। मामले की पुष्टि करते हुए पुलिस अधीक्षक समीर सौरभ ने बताया कि मारा गया नक्सली कान्हा भोरमदेव का सक्रिय नक्सली कबिर उर्फ सुरेन्द्र का गार्ड रूपेश है। मुठभेड़ के बाद जंगल में सर्चिंग तेज कर दी गई है।
बालाघाट से सुनील कोरे की रिपोर्ट