लापता हुए युवकों के शव नदी में मिले

Avatar
Published on -

Balaghat Youth Drowned in River : लांजी क्षेत्र के प्रसिद्ध सिद्धपीठ धार्मिक एवं पर्यटन स्थल गांगजी राजा गये दो युवको के नदी में कपड़े और मोबाईल मिलने के बाद उनके डूबने की आशंका, आखिर सच साबित हुई और 17 अप्रैल को दोनो युवकों का शव 2 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने बरामद किया।

यह था मामला 
गौरतलब हो कि 16 अप्रैल को ईटोरा निवासी 19 वर्षीय ज्ञानेश पिता राजकुमार घोरमारे, 22 वर्षीय अजय पिता शेषराम घोरमारे अपने साथी अनाराम पिता दीनाराम घोरमारे, दुर्गेश पिता प्रकाश घरते सहित दो अन्य 10 से 12 वर्ष के बच्चो के साथ 16 अप्रैल को सिद्धपीठ स्थल गांगजी राजा गये थे। सभी लोगो ने गांगजी राजा में पूजन अर्चना के बाद खाना खाया और आराम कर रहे थे। इसी दौरान दोपहर 1,2 बजे के मध्य 19 ज्ञानेश घोरमारे और अजय घोरमारे ने अन्य साथियों से कहा कि हम लोग घूमकर आते है, साथियों के मना करने के बाद भी वह दोनो नही माने और घूमने की बात कहकर निकल गये। लेकिन जब शाम होते तक दोनो ही युवक वापस नही लौटे तो साथ गये साथी, दोनो को ढूंढते हुये सोननदी के समीप पहुंचे। जहां उन्होंने नदी के बीच स्थल पर एक पत्थर में दोनो युवको के कपड़े और मोबाईल रखा देखा। जिससे उन्हें यह संदेह है कि दोनो ही युवक नदी मे नहाने गये होंगे एवं डूब गये है, जो आशंका 17 अप्रैल को सच साबित हुई और दोनो ही युवकों ज्ञानेश घोरमारे और अजय घोरमारे का शव जिले से पहुंचे होमगार्ड और एसडीईआरएफ की गोताखोरों की टीम प्रभारी सीक्युएम फागुलाल नेवारे के नेतृत्व में रेस्क्यु टीम एनसीओ रामभरोस वरकड़े, एसके सुखदेव भौतेकर, एसडीईआरएफ कुलदीप दुबे, 14 घनश्याम सोनेकर, करणसिंह वल्के और वाहन चालक देवेंद्र गेडाम ने दो घंटे की कड़ी मशक्कत के नदी से बाहर निकाला। जिनके शव को पुलिस ने बरामद कर पंचनामा कार्यवाही के बाद शव को पीएम के लिए सिविल अस्पताल भिजवाया।

बालाघाट से सुनील कोरे की रिपोर्ट 


About Author
Avatar

Sushma Bhardwaj

Other Latest News