बच्चे मुझे मामा कहते तो चिढ़ती है प्रियंका गांधी – शिवराज सिंह चौहान

Amit Sengar
Published on -
shivraj

MP Election 2023 : मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 10 नवंबर को बालाघाट जिले में तूफानी दौरा किया। जिले में पांच घंटे के भीतर पांच प्रत्याशियों के लिए चार जगह आयोजित जनसभा के माध्यम से प्रत्याशियों के लिए आशीर्वाद मांगा। इस दौरान उन्होंने कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे और राष्ट्रीय नेत्री प्रियंका गांधी वाड्रा पर भी जुबानी हमला बोला। भरवेली में बालाघाट विधानसभा प्रत्याशी गौरीशंकर बिसेन और परसवाड़ा प्रत्याशी रामकिशोर कावरे के लिए आशीर्वाद मांगने पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा कि मैं सरकार नहीं चलाता, परिवार चलाता हूं। आप सब मेरा परिवार हो। कांग्रेस को इसी से चिढ़ होती है। बच्चे मुझे मामा पुकारते हैं तो प्रियंका गांधी चिढ़ जाती हैं। वह कहती हैं कि मामा तो कंस था। वह मामा का अर्थ नहीं जानतीं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे कहते हैं कि हम (कांग्रेस) भाजपा के पांच पांडवों से लड़ रहे हैं। इसका मतलब आप खुद को कौरव सिद्ध कर रहे हैं।

कांग्रेस की सरकार बन गई, तो लाड़ली बहना योजना बंद हो जाएगी

उन्होंने कहा कि कांग्रेस बेइमानों की पार्टी है। अगर कांग्रेस की सरकार बन गई, तो लाड़ली बहना योजना बंद हो जाएगी। सत्ता में कांग्रेस आई तो न लाड़ली रहेगी, न बहना रहेगी। वो इस योजना पर ताला लगा देंगे। इसलिए कांग्रेस के सत्ता में आने वाले द्वार पर ताला लगा दो।
मैं पैसों के इंतजाम में लगा हूं, अब 21 साल की बेटी, जिसकी शादी हुई है या नहीं, सबको लाड़ली बहना योजना का लाभ मिलेगा, लेकिन मैं सिर्फ 1250 ही नहीं दूंगा, आगे चलकर इसे तीन हजार रुपये करूंगा। अभी इस योजना से 1.32 करोड़ बहनें जुड़ीं है, अगर संख्या बढ़ती है, तो बढ़ जाने दो। हम कमल नाथ नहीं है, जो डर जाएं, हमारे पास पैसा है। सवा साल की सरकार में कमल नाथ हमेशा रोते रहते थे कि मेरे पास पैसा नहीं है। जब पैसा नहीं था, तो मुख्यमंत्री क्यों बन गए थे। लाड़ली बहना योजना के बाद अगला लक्ष्य ‘प्रत्येक परिवार, एक रोजगार’ का है।

shiv raj singh

पहले 9 सौ वचन दिए थे और 9 भी पूरे नहीं किए

उन्होंने कहा कि चुनाव प्रचार में अकेले ही क्यों निकलूं, मेरी बहने, भांजे, किसान और नौजवान भी निकले और यदि जनता जुट जाए तो सरकार बनने से कोई रोक नहीं सकता। सारी दुनिया देखे कि यदि हम बहनों के लिए कुछ करते है तो बहनें ज्यादा देती है, इसलिए दोनो हाथ जोड़कर अशीर्वाद मांगने आया हूँ। उन्होंने कहा कि साढ़े चार सौ में गैस सिलेंडर, बढ़े बिजली के बिल वे भरेंगे और गरीब एवं मध्यमवर्गीय परिवार को 100 रूपया बिजली बिल आएगा। यही नहीं मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के मेधावी बेटा-बेटी, यदि मेडिकल-इंजीनियरिंग और अन्य कॉलेज में पढ़ना चाहते है तो उनकी पूरी फीस, मामा चुकाएगा। बच्चों की जिंदगी की राह आसान होगी। उन्होने कहा कि पहले 9 सौ वचन दिए थे और 9 भी पूरे नहीं किए।

बालाघाट से सुनील कोरे की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News