Betul News : बेटा ही निकला मां और भांजी का कातिल, मां के आशिक के साथ मिलकर दिया डबल मर्डर को अंजाम

बैतूल में मुलताई के कामत में पिछले दिनों हुए दोहरे हत्याकांड (Double murder case ) में नानी और नातिन की बेरहमी से हत्या के मामले में पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है। जिसमें मृतिका के बेटे समेत पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

बैतूल, वाजिद खान। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के बैतूल में मुलताई के कामत में पिछले दिनों हुए दोहरे हत्याकांड (Double murder case ) में नानी और नातिन की बेरहमी से हत्या के मामले में पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है। जिसमें मृतिका के बेटे समेत पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। हत्या की वजह मृतिका द्वारा बेटे को घर से निकाला जाना और अवैध संबंध के रूप में सामने आया है। पुलिस ने इस मामले में घटना में प्रयुक्त हथियार बरामद कर लिए है। जबकि हत्या के बाद चुराए गए जेवरात जब्त किये है। पुलिस अधीक्षक सिमाला प्रसाद ने इस मामले में तीन टीआई की टीम गठित कर इस पूरे मामले का खुलासा किया है। एसपी के मुताबिक इस दोहरे हत्याकांड का खुलासा के लिये एसडीओपी मुलताई नम्रता सोधिया के नेतृत्व में टीम गठीत की गयी थी। लगातार अज्ञात आरोपियो की तलाश की जा रही थी 23 मार्च को गिरफ्तार करने में पुलिस ने सफलता प्राप्त की ।

यह भी पढ़ें…MP Weather Alert: मप्र के इन जिलों में गरज-चमक के साथ बारिश के आसार

Betul News : बेटा ही निकला मां और भांजी का कातिल, मां के आशिक के साथ मिलकर दिया डबल मर्डर को अंजाम

यह है पूरा मामला
15 मार्च को मुलताई पुलिस को सूचना मिली थी, की एक घर मे दो लोगो की खून से लथपथ लाश पड़ी हुई है पुलिस ने मौके पर पहुँचकर अज्ञात के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया और मामले को जांच में लिया। मृतिका जसवतीबाई एव उसकी नातिन 11 साल की पलंग पेटी पर खून से लतपथ मृत अवस्था में फ़ारेस्ट कालोनी के मकान में पड़े हुये पाये गये थे। दोनो मृतिकाओं को सिर में गंभीर चोट होने से प्रथम दृष्ट्या हत्या का मामला पाये जाने से अज्ञात आरोपी के विरूद्ध धारा 302 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। विवेचना के दौरान संपूर्ण तथ्यों की जाँच पर पाया गया कि मृतिका का लड़का रवि पवार तथा उसका मामा ससुर दिलिप पाटील एव कलारी में काम करने वाला मदन सेन तीनों ने मिलकर अपराधिक षडयंत्र के तहत दिनांक 14-15 मार्च की मध्यरात्रि में घातक हथियार से वार कर हत्या हत्या को अंजाम दिया था। आरोपीयो द्वारा हत्या करने का कारण बताया गया कि रवि पिछले चार माह से कोई काम नहीं कर रहा था। उसकी माँ मृतिका जसवती द्वारा खर्चा देने से मना कर दिया गया था। घटना दिनांक से चार दिन पूर्व रवि उसकी पत्नि एवं ढाई माह के बच्चे को माँ द्वारा घर से बाहर निकाल दिया गया था । इसी बात से नाराज होकर रवि ने उसके मामा ससुर दिलिप को यह बात बतायी तो उसको भी अपनी भांजी की परेशानी देखी नही गयी । दूसरी ओर मृतिका कलारी के आफिस में पिछले पांच साल से खाना बनाने का काम कर रही थी, इसी दौरान उसकी कलारी में काम करने वाले मदन सेन से काफी करीबी संबंध हो गये थे। वह बार-बार फोन लगाकर मदन को परेशान करती थी और अनुचित दबाव बनाती थी । इसी बात को लेकर मदन काफी तंग हो गया था । इसी वजह से घर मे परिवारिक कलह होने लगे थे । इन्ही बातो को लेकर तीनो ने एक राय होकर योजना बद्ध तरीके से दिनांक 14-15 मार्च की रात में हथोड़ी से मुसल से मृतिका जसवंतीबाई एव नाबालिक नातिन को सोते समय सिर में वार कर हत्या कर दी। एवं नातिन का मोबाईल और मृतिका का मंगलसुत्र,पायल भी निकालकर ले गये । जिसमें मंगल सुत्र एवं पायल आरोपीयो से बरामद किये गये तथा आरोपी रवि पवार से घटना में प्रयुक्त हथोड़ी एवं आरोपी मदन सेन से लोहे का खलबत्ता बरामद किया गया है । उक्त मामले में आरोपी.रवि पिता स्व सुरेन्द्र पवार उम्र 25 साल निजलाराम मंदिर के पास कामथ मुलताई, दिलीप पिता वामनराव पाटील उम्र 30 साल निवासी परसोडी, मदन पिता नौनेलाल सेन उम्र 37 साल निवासी ग्राम बसोन पोस्ट पाने थाना बन्डा तहसील बन्डा जिला सागर हाल जलाराम मंदिर कामथ मुलताई को उक्त हत्या के प्रकरण में गिरफ्तार किया जाकर न्यायालय में पेश किया है ।

यह भी पढ़ें…MP: नगर निकाय के बाद अब पंचायत चुनाव में फंसा पेच, आयोग ने शिवराज सरकार को लिखा पत्र