MP College : कॉलेज और फीस को लेकर उच्च शिक्षा मंत्री का बड़ा ऐलान

मंत्री यादव ने कहा कि  कन्या महाविद्यालय का नाम बदलकर रानी दुर्गावती रखा जाएगा और प्रदेश के कॉलेजो और विश्वविद्यालयों में शुल्कों में एकरूपता लाने को लेकर जल्द बड़ा फैसला लिया जाएगा।

college

बैतूल, वाजिद खान। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव (Higher Education Minister Mohan Yadav) ने कॉलेजों (College) और फीस (fees) को लेकर एक बड़ा ऐलान किया है। मंत्री यादव ने कहा कि बैतूल के कन्या महाविद्यालय का नाम बदलकर रानी दुर्गावती (Rani Durgavati) रखा जाएगा और प्रदेश (MP) के कॉलेजो और विश्वविद्यालयों (Universities) में शुल्कों में एकरूपता लाने को लेकर जल्द बड़ा फैसला लिया जाएगा। इस संबंध में फरवरी (February) में बैठक भी बुलाई गई है।

यह भी पढ़े… MP के कॉलेज छात्रों को एक और मौका, उच्च शिक्षा विभाग ने दिए यह निर्देश

दरअसल, आज रविवार को उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव बैतूल में अल्प प्रवास पर पहुंचे है। इस दौरान शिक्षा प्रणाली पर चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश के कॉलेजो और विश्वविद्यालयों में शुल्कों में एकरूपता लाने के लिए उच्च शिक्षा विभाग प्रयास कर रहा है। इसके लिए पूरे प्रदेश ले विश्वविद्यालयो के कुलपतियों की बैठक फरवरी में बुलाई जा रही है, जिसमें शुल्क में एकरूपता लाने का फैसला किया जाएगा।फीस (College Fees) में एकरूपता न होना इसे “जजिया कर ” की तरह मानता हूं। शुल्क में एकरूपता न होना गलत है। इसे फरवरी के प्रथम सप्ताह में आयोजित बैठक में तय कर देंगे।

मंत्री मोहन यादव ने आगे कहा कि  732 नए कॉलेजों को अलग-अलग पाठ्यक्रम खोलने की अनुमति दी है। कोरोना काल बावजूद सफलतापूर्वक परीक्षा कराई है। 20 जनवरी से सभी कॉलेज शुरू करने के प्रयास कर रहे है।  सरकार का प्रयास है कि व्यावसायिक पाठ्यक्रम (Vocational Course) ज्यादा से ज्यादा शुरू किए जाए।ताकि छात्रों को रोजगार (employment) मूलक शिक्षा मिले। निजी कॉलेज (Private College) जो जो कोर्स (Course) मांगेंगे देंगे।

यह भी पढ़े… कृषि मंत्री कमल पटेल ने किसानों को लेकर की बड़ी घोषणा, कलेक्टरों को दिए निर्देश

इस दौरान उन्होंने बैतूल (Betul) के कन्या महाविद्यालय  (Girls college) का नाम बदलकर रानी दुर्गावती रखने का भी एलान किया है। अतिथि विद्वानों को लेकर उन्होंने कहा कि यह विषय खत्म हो गया है हमारे पास कुल 500 अतिथि विद्वान बचे हैं जिसके विरुद्ध हमने कुल 450 पद स्वीकृत कर दिए हैं अब हम प्रति सोमवार अतिथि विद्वानों (Guest Scholars) से चॉइस फिलिंग मांग रहे हैं लेकिन कोई आ ही नहीं रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here