यूपी का लड़का बना एमपी के मंत्री का ‘भांजा’, सर्किट हाउस में किए कई दिन मज़े

1795
boy-stayed-in-circuit-house-call-himself-minister-relative

भिंड। गणेश भारद्वाज।

जिले के सबसे बड़े सर्किट हाउस में एक युवक अपने आप को प्रभारी मंत्री आरिफ अकील का भांजा बताकर कई दिनों से अवैध रूप से रुका हुआ था। सर्किट हाउस के एसी कमरा नम्बर 3 में यह युवक सरकारी सेवाओं का लुत्फ उठा रहा था। आज प्रभारी मंत्री के दौरे के समय इसकी पोल उस समय खुली जब मीडिया कर्मियों ने प्रभारी मंत्री से इस को लेकर सवाल किया। जिस पर प्रभारी मंत्री ने कहा कि मेरा कोई भांजा ही नहीं है। तत्काल उस युवक को गिरफ्तार किया जाए। जिसके बाद पुलिस ने युवक को हिरासत में लेकर उससे पूछताछ प्रारंभ कर दी है।

दरअसल जहीर अहमद नाम का एक व्यक्ति पिछले लंबे समय से सर्किट हाउस के एयर कंडीशन कमरा नंबर 3 में रुका हुआ था। यही नहीं वह कलेक्टर से अपने संबंध होने की बात भी कह रहा है। युवक से जप्त डायरी में कई प्रशासनिक अधिकारियों के मोबाइल नंबर मिले हैं। वहीं जिला खनिज अधिकारी आरपी भदकारिया तो इस युवक के कमरे में ही बैठे मिले। सूत्रों के अनुसार यह युवक प्रभारी मंत्री के नाम पर जिले भर में अवैध वसूली कर रहा है। इस बात की भनक जब मीडिया को लगी तो पहले तो सर्किट हाउस कर्मचारियों से इसकी सच्चाई जानी और फिर प्रभारी मंत्री से जब सवाल किया तो उन्होंने अपना कोई भी भांजा होने से इनकार करते हुए इस युवक की गिरफ्तारी के निर्देश दे दिए। फिलहाल पुलिस उससे पूछताछ में जुटी हुई है।

पुलिस ने कहा कि यह राजस्व अफसरों की नाकामी है। आखिर राजस्व अधिकारियों ने उसे सर्किट हाउस में रुकने की परमिशन कैसे दी। हमने उनसे जवाब मांगा है कि आखिर यह जमील नामक व्यक्ति सर्किट हाउस में रुका ही कैसे था ? उनके जवाब के बाद अग्रिम कार्रवाई की जाएगी। लोगों में दबी जुबान चर्चा होती थी कि जो भी प्रभारी मंत्री होते हैं उनके लोग जिले के अधिकारियों से वसूली करते हैं, आज जब प्रभारी मंत्री आरिफ अकील का तथाकथित भांजा अधिकारियों के साथ बैठा हुआ मिला और उस पर गंभीर अवैध वसूली के आरोप लगे। मंत्री आरिफ अकील ने इस मामले से पूरी तरह से पल्ला झाड़ लिया है लेकिन सवाल खड़ा होता है कि एक युवक सरकारी रेस्ट हाउस में किस हैसियत के साथ पिछले 15 दिनों से रुका हुआ था। इस बात को लेकर स्थानीय विधायक संजीव सिंह कुशवाह ने भी सवाल खड़े किए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here