भोपाल। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में आम जनता के बाद अब राजनेता कोरोना से संक्रमित हो रहे हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh CHauhan) के बाद अब भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा (VD SHarma) की भी रिपोर्ट पॉज़िटिव आई है। जिसके बाद प्रदेश की सियासत में खौफ का माहौल है। भाजपा और कांग्रेस के दिग्गज नेताओं ने अपने अपने घरों को ही सियासी केंद्र बना लिया है। चुनावी तैयारियों की रफ़्तार भी धीमी हो गई है| हालांकि सभी सोशल मीडिया पर एक्टिव हैं|

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की रिपोर्ट आने के बाद पूर्व सीएम कमलनाथ भी एहतियातन अपने निवास पर ही हैं। हालांकि, केरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए वह पहले भी काफी कम दिखाई दे रहे थे। लेकिन सीएम शिवराज के पॉज़िटिव आने के बाद से उन्होंने सभी मुलाकतों को रद्द कर दिया है। और पूरी तरह से क्वरंटीन हो गए हैं। पूर्व सीएम नाथ के स्टाफ ने कांग्रेस नेताओं को हिदायत देते हुए कहा है कि वह कुछ समय बाद उनसे मिलने आए। उन्होंने यह भी कहा है कि बहुत जरूरी होने पर वह फोन पर संपर्क करते हैं।

उनके अलावा राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह भी सदन की सदस्यता लेने के बाद भोपाल नहीं लौटे हैं। उन्होंने आम लोगों के अलावा सभी कांग्रेस और अन्य नेताओं से मिलना फिलाहल टाल दिया है।

शिवराज के संपर्क में आए थे शर्मा
प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा सीएम शिवराज के पॉज़िटिव आने से पहले तक उनके संपर्क में थे। शर्मा और शिवराज लखनऊ की फ्लाइट में साथ थे। उनके अलावा अरविंद भदौरिया भी फ्लाइट में मौजूद थे। वह भी कोरोना संक्रमित पाय गए थे।

भाजपा दिग्गजों में हड़कंप
भाजपा नेताओं द्वारा लगातार बीते दिनों कई बैठकों का आयोजन किया गया था। जिसके बाद कई नेता कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। भाजपा संगठन सचिव सुहास भगत ने भी कार्यकर्ताओं समेत सभी से मुलाकात बंद कर दी है। भगत भी चौहान के संपर्क में रहे थे। लेकिन उन्होंने खुद को अपने घर में क्वारंटीन कर लिया है। तुलसी सिलावट के पॉजिटिव आने के बाद उनके समर्थक भी अब घर बैठ गए हैं| कुछ नेता जो लगातार सभाएं, जनसम्पर्क कर रहे थे| वो भी अब सचेत हो गए हैं|