एडीजी मिश्रा मामले में नया मोड़, मां ने मानवाधिकार आयोग से की अध्यक्ष की शिकायत

ADG-mishra-mother-complaint-to-human-right-commission-

भोपाल। एडीजी राजेंद्र कुमार मिश्रा के पिता कुलामणि मिश्रा का मामला गरमाता जा रहा है। मिश्रा की मां शशिमणि मिश्रा ने मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष जस्टिस नरेन्द्र कुमार जैन की शिकायत मप्र राज्य मानवाधिकार आयोग के चेयरमैन को तीन पेज के शिकायती पत्र में की है। उन्होंने आरोप लगाया है कि जस्टिस नरेन्द्र कुमार जैन पद और कार्यालय का दुरुपयोग कर रहे हैं। 

मानवाधिकार आयोग ने एडीजी के पिता कुलामणि मिश्रा के निधन को लेकर भोपाल पुलिस से रिपोर्ट मांगी है। एडीजी की मां का कहना है कि यह उनके धार्मिक और व्यक्तिगत पारिवारिक जीवन में दखल है। कुछ मीडिया रिपोर्ट में बंसल अस्पताल के हवाले से कहा गया है कि एडीजी के पिता का निधन हो चुका है। एडीजी और उनके परिवार का दावा है कि उनके पिता जीवित है और समाधि में हैं। इस संबंध में एडीजी के परिवार ने मप्र हाईकोर्ट में भी एक अलग याचिका दायर की है।

एडीजी की मां ने लिखा है कि जैन लगातार उनके पारिवारिक मामलों में दखल दे रहे हैं। जिससे उन्हें और उनके परिवार को उत्पीड़न का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने लिखा है कि वह अपनी पति की देखभाल प्रकृतिक तरीके से कर रही हैं। उन्होंने शिकायत में लिखा है कि उन्हें लगातार फर्जी खबरों के आधार पर परेशान किया जा रहा है। उन्होंने लिखा है कि एलोपैथी का इलाज उनके पति का उपचार करने में आसफल रहा है। जिसके बाद उनका पति का इलाज 15 फरवरी से वैध द्वारा किया जा रहा है। हमारे लिए ये काफी हैरानी की बात है कि मानवाधिकार आयोग के चैयरमैन द्वारा एक ऐसी टीम को जांच के लिए भेजने के निर्देश दिए हैं जो मेरे पति का इलाज करने में असमर्थ हैं। उन्होंने मांग करते हुए कहा है इस पूरे मामले की एक स्वतंत्र जांच कराई जाए।