भाजपा ने सिंधियों को हमेशा धोखा दिया है : कमलनाथ

2023 को लेकर प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में 20 शहरों के सिंधी समाज के प्रतिनिधि जुड़े

भोपाल,रवि नाथानी। सिंधी समाज के प्रतिनिधि को जुटाकर कांग्रेस (congress) ने भाजपा (bjp) के धोखे को समाज के हर व्यक्ति तक पहुंचाने का पाठ पढ़ाया है। कांग्रेस के प्रदेश प्रमुख कमलनाथ ने कहा, सिंधी समाज के लिए भाजपा ने कुछ नहीं किया है। वहीं विधानसभा के पूर्व सचिव भगवानदेव इसरानी ने कहा कि सिंधी समाज के लिए 70 सालों के इतिहास में जो भी किया वह कांग्रेस और उसकी सरकारों ने ही किया है।

मिशन 2023 को लेकर प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में 20 शहरों के सिंधी समाज के प्रतिनिधि जुड़ेे। सिंधी कल्याण समिति के प्रांतीय सम्मेलन के जरिये कांग्रेस ने सिंधी वोटों को साधने की कोशिश की। आर्थिक रूप से मजबूत सिंधी समाज का कांग्रेस विधानसभा चुनाव में फायदा उठाना चाहती है। कमलनाथ ने सिंधी समाज के नुमाइंदों को यह बताने की कोशिश की कि भाजपा ने सिंधियों को हमेशा धोखा दिया है। यह बात समाज के हर व्यक्ति तक पहुंचाने को भी कहा। नाथ ने कहा कि सिंधी समाज का अधिकांश व्यक्ति व्यवसाय से जुड़ा और मेहनती होता है। समाज ने अपनी मेहनत से अपना बिजनेस खड़ा करता है। सिंधी समाज केवल सिंधी समाज तक सीमित नहीं है, उससे कई समाज के लोग जुड़े होते हैं। भाजपा के लोग केवल इस समाज का उपयोग करते हैं लेकिन आज तक इस समाज के लिए किया कुछ नहीं है।

भाजपा ने उपयोग किया
पूर्व विधानसभा सचिव भगवानदेव ईसरानी ने कहा कि सिंधी समाज के लिए 70 सालों के इतिहास में जो भी किया वह कांग्रेस पार्टी और उनकी सरकारों ने ही किया है। भाजपा ने इस वर्ग का केवल उपयोग कर उसका शोषण किया है। उन्होंने कहा कि सिंधी समाज के हितों के संरक्षण की दिशा में कार्य करने, समाज और पार्टी में उचित समन्वय स्थापित करनें एवं इस समाज को चुनावों और कांग्रेस संगठन में उचित प्रतिनिधित्व की बात कहीं।

भाजपा ने सिंधियों को हमेशा धोखा दिया है : कमलनाथ

सरकार बनी तो सिंधी कल्याण समिति के संरक्षक समाज सेवी ईश्वरलाल झामनानी ने कहा कि कि इस समाज में जो चेतना और जागृति आयी है, विश्वास है वर्ष 2023 में कांग्रेस की सरकार बनेगी और सिंधी समाज के कल्याण के लिए कार्य करेगी। राज्य स्तरीय इस समिति द्वारा जल्द ही जिला समितियों को गठन भी किया जायेगा। प्रदेश के सिंधी समुदाय के पार्षदों का स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मान किया गया। समिति के प्रदेश संयोजक दिनेश मेघानी ने आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष चंद्रप्रभाष शेखर, महामंत्री और प्रकोष्ठों के प्रभारी जे.पी.धनोपिया, सिंधी कल्याण समिति के प्रतिनिधिगण महेश गुलवानी, सहित बड़ी संख्या में समाज के वरिष्ठ नागरिक और कांग्रेसजन उपस्थित थे।

इन मांगों का किया आग्रह
समिति ने कमलनाथ से आग्रह करते हुए कहा कि सिंधी विस्थापितों को धारित जमीन के पटटे देनें का काम लंबित है, सिंधी भाषा के शिक्षकों के सभी पद समाप्त कर दिये गये हैं, प्रदेश के कई शहरों के नागरिकता के मामले गृह विभाग में अटके हैं, सरकार बनने पर सिंधी समाज को पूरी तबज्जों मिलेगी।