बीजेपी मंडल अध्यक्ष की पटरी पर मिली क्षत-विक्षत लाश, हत्या की आशंका

bjp-leader-dead-body-found-near-railway-track-in-bhopal

भोपाल। फराज शेख| देवकी नगर रेलवे फाटक के पास रेलवे ट्रेक पर एक आईसक्रीम पार्लर संचालक की क्षत-विक्षत लाश मिलने से सनसनी फैल गई। मृतक के दोनों हाथ कटे हैं जबकि सिर में भी गंभीर चोट के निशान हैं। पुलिस का अनुमान है कि यह दुर्घटना अथवा आत्महत्या का मामला है जबकि परिजनों का आरोप है कि उनके बेटे की हत्या करने के बाद शव को पटरी पर फेंका गया है। पुलिस का कहना है कि पार्लर संचालक की मौत हत्या है, आत्महत्या है अथवा हादसा, इसका खुलासा शार्ट पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही हो सकेगा। फिलहाल मर्ग कायम कर तफ्तीश शुरू कर दी गई है। बताया जा रहा है युवक बीजेपी से जुड़ा हुआ है और करोंद मंडल का अध्यक्ष था| 

पुलिस के मुताबिक  मंगलवार देर रात करीब 11 बजे एक राहगीर ने एक युवक की लाश देवकी नगर रेलवे फाटक के पास रेलवे ट्रेक पर पड़ी होने की सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने पंचनामा बनाकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। मृतक के पास मिले दस्तावेज से उसकी पहचान विकास नगर हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी करोंद में रहने वालो दीपेश कनोजिया (26) के रूप में हुई। सूचना मिलते ही परिजन भी मौके पर पहुंच गए थे। दीपेश यहां नारियलखेड़ा इलाके में टॉप-एन-टाउन आईसक्रीम पार्लर का संचालन करता था। दीपेश के पिता दयानंद कनोजिया विद्युत विभाग में नौकरी करते हैं। पुलिस का कहना है कि दीपेश के सिर पर गंभीर चोटों के निशान हैं जबकि दोनों हाथ भी कटे हुए हैं। फिलहाल पुलिस अनुमान लगा रही है कि दुर्घटनावश पटरी पार करते समय ट्रेन की चपेट में आने से दीपेश की मौत हुई। पुलिस ने अत्महत्या किए जाने की आशंका भी व्यक्त की है। दूसरी ओर परिजनों ने दीपेश कनोजिया की हत्या किए जाने का आरोप लगाया है। परिजनों का कहना है कि दीपेश बहुत अच्छे मूड में घर से निकला था। कुछ माह पूर्व ही उसने आईसक्रीम पार्लर का काम शुरू किया था और वह अपने काम से खुश भी थी। कभी तनाव में नहीं दिखा दीपेश। घर में भी परिवार के सभी सदस्यों से उसके मधुर संबंध थे, इसलिए परिजनों ने आत्महत्या की आशंका से पूरी तरह से इनकार कर दिया। 

विवेचना छोड़ रैलियों में उलझे पुलिसकर्मी 

थाना प्रभारी महेन्द्र सिंह चौहान का कहना है कि शहर में आज दोनों राजनैतिक पार्टियों के बड़े-बड़े आयोजन हैं। बड़ी सं या में पुलिस फोर्स व्यवस्था देखने में लगा है। इन्हीं व्यस्तताओं के चलते फिलहाल मृतक के परिजनेां से बात नहीं हो सकी है। थाना प्रभारी ने देर शाम फ्री होने के बाद परिजनों से मुलाकात करने की बात कही है। थाना प्रभारी ने बताया कि दीपेश के घर मेें माता-पिता के अलावा एक भाई है। दीपेश की शादी नहीं हुई थी। परिजनों के लगाए आरोप के अलावा प्रेम-प्रसंग होने की संभावना के बिंदु पर भी त तीश की जाएगी।