नए सिरे से संगठन में बदलाव करेगी बसपा, जिलों में भी होगा बड़ा फेरबदल

-BSP-will-make-changes-in-the-organization-in-a-new-way-in-mp

भोपाल। मप्र में पिछले लोकसभा एवं विधानसभा चुनावों में बहुजन समाज पार्टी का वोट बैंक तेजी से घटा है। हाल ही में हुए लोकसभा एवं विधानसभा चुनाव में बसपा का खराब प्रदर्शन रहा है। चुनाव के नतीजों को देखें तो मप्र में बसपा का जनाधार तेजी से घट रहा है। जिसे बचाने के लिए बसपा नए सिरे से संगठन में बदलाव कर  रही है। संगठन का नया ढांचा तैयार हो रहा है। जिसके तहत प्रदेश को अब आठ जोन में बांटा जाएगा। 

 बसपा सुप्रीम मायावती ने खराब प्रदर्शन के बाद पिछले हफ्ते प्रदेशाध्यक्ष डीपी चौधरी को हटाकर रमाकांत पिप्पल को कमान सौंपी गई। पिप्पल ने पार्टी के सभी जिलाध्यक्षों, जोन प्रभारी एवं प्रदेश प्रभारियों को बुलाया गया था। प्रदेश प्रभारी गौतम और स्टेट कोआर्डिनेटर महेश आर्य ने पार्टी सुप्रीमो मायावती के निर्देशों का हवाला देते हुए बताया कि अब प्रदेश में संगठनात्मक रूप से बड़े बदलाव होंगे। पिप्पल करीब तीन दशक से बसपा संगठन के विभिन्ना पदों पर काम करते रहे हैं।  

आठ जोन में बांटा प्रदेश 

मध्य प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी अब संगठन की कसावट में जुट गई है। प्रदेश में अब छह के बजाए आठ जोन बना दिए गए हैं। बुंदेलखंड के लिए खजुराहो और आदिवासी बहुल बैतूल-होशंगाबाद का नए जोन के रूप में गठन किया गया है। आठ जोन में ग्वालियर, रीवा, जबलपुर, भोपाल, इंदौर, उज्जैन के अलावा अब खजुराहो और बैतूल-होशंगाबाद भी जुड़ गए हैं। इनमें प्रभारियों की नियुक्ति अभी की जाएगी, जिलाध्यक्षों के कामकाज का आकलन भी किया जाएगा।  बैठक में प्रदेश प्रभारी व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रामजी गौतम ने रमाकांत पिप्पल को प्रदेश का नया अध्यक्ष बनाए जाने का विधिवत एलान किया। बसपा अब निकाय चुनाव की रणनीति बनाने में जुट गई है।