CM शिवराज आज करेंगे “कोई नहीं रहेगा बेरोजगार” महाभियान की शुरुआत, VC के जरिये करेंगे चर्चा

भोपाल।

कोरोना(corona) संकटकाल के बीच मजदूरों को राहत देते हुए प्रदेश के गृह और स्वास्थ्य नरोत्तम मिश्रा(narottam mishra) ने “कोई नहीं रहेगा बेरोजगार, सबको मिलेगा रोजगार” अभियान का ऐलान किया गया था। वहीँ मंगलवार को प्रेस कांफ्रेंस(press conference) करते हुए स्वास्थ्य एवं गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बताया था कि 22 मई से मध्यप्रदेश(madhyapradesh) में इस अभियान की शुरूआत होगी। जिसके बाद आज शुक्रवार दोपहर से वापस प्रदेश लौटे मजदूरों को रोजगार देने के लिए इस अभियान की शुरुआत की जाएगी। आज दोपहर 3 बजे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान(shivraj singh chouhan) द्वारा इस अभियान को लांच किया जायेगा। इस बीच सीएम शिवराज मजदूरों को जॉब कार्ड भी वितरण करेंगे।

दरअसल आज शुक्रवार को “कोई नहीं रहेगा बेरोजगार” योजना का पदार्पण करते हुए मुख्यमंत्री मज़दूरों को जॉब कार्ड भी देंगे। वहीँ वो वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के जरिये ग्राम प्रशासनिक समितियों के प्रधानों से चर्चा भी करेंगे। सीएम शिवराज इस दौरान कोरोना काल में कार्य करने वाले मज़दूरों के लिए प्रधनों को कुछ निर्देश भी देंगे। वहीँ शिवराज ग्राम प्रधानों को बतायेगे कि गांव में कोरोना को फैलने से कैसे रोका जाए। बता दें कि अब तक सर्कार के दावे के मुताबिक कोरोना संकट के समय एक अप्रैल से लेकर अभी तक 35 लाख 45 हजार 242 मजदूरों को मनरेगा अंतर्गत रोजगार दिया जा चुका है। इसमें भी 42.2 फीसदी महिलाएं हैं। अब आज शुक्रवार से इनमें नए मजदूर जोड़ने कि योजना सरकार बना रही है।

जैसा कि आपको ज्ञात है कि सोमवार को प्रेस कांफ्रेंस करते हुए नरोत्तम मिश्रा ने कहा था कि उन्होने कहा कि हम सबको रोजगार देंगे, इस अभियान की शुरूआत सीएम शिवराज सिंह चौहान करेेंगे। इसके बाद सभी विधायक(mla) अपने विधानसभा क्षेत्र के जनपद पर जॉब कार्ड बाटेंगे। मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने आगे कहा कि ग्लोबल टेंडर(global tender) में सरकार ने रोक लगा दी है। खास तौर पर चिकित्सा उपकरणों के लिए यह फैसला लिया गया है। प्रदेश को मनरेगा अंतर्गत 11000 करोड़ से अधिक की राशि भी मिलेगी। वहीँ बताया जा रहा है कि वर्तमान में प्रदेश की 22809 ग्राम पंचायतों में से 22695 में 19 लाख 92 हजार मजदूर कार्य कर रहे हैं।