अब बाबा मांगे ‘उड़न खटोला’

computer-baba-demand-for-a-helicopter-from-mp-government-

भोपाल| मध्य प्रदेश की राजनीति का हिस्सा बने कंप्यूटर बाबा आये दिन सुर्ख़ियों में रहते हैं| लोकसभा चुनाव में खुलकर कांग्रेस का समर्थन करने वाले कंप्यूटर बाबा को अब उड़नखटोला चाहिए| उन्होंने नर्मदा नदी के निरीक्षण के लिए हेलीकाप्टर की मांग की है| उन्होंने कहा कि नर्मदा के लिए अगर जल्द काम करना है तो हेलीकॉप्टर से देखना पड़ेगा कि कहां-कहां गन्दगी है, कहां काम करना है जल्दी देखने के लिए हेलीकॉप्टर चाहिए, उन्होंने बताया कि पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह से उन्होंने हेलीकाप्टर की मांग रखी है| 

दरअसल, कंप्यूटर बाबा को नर्मदा, मंदाकिनी और क्षिप्रा नदी न्यास का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है| उन्होंने आज मंत्रालय पहुंचकर पदभार ग्रहण किया| इस दौरान बाबा ने नर्मदा, क्षिप्रा, मंदाकिनी में अवैध उत्खनन रोकने के लिए टोल फ्री नंबर 1800120106106 जारी किया, इस नंबर पर शिकायत होगी| वहीं मीडिया से चर्चा में बाबा ने कहा नर्मदा तट के दोनों ओर पेड़ लगाने और नर्मदा को सुरक्षित करने के लिए मेरे साथ संत समाज लगा रहेगा| उन्होंने कहा नर्मदा के निरीक्षण के लिए दिग्विजय सिंह से हेलीकॉप्टर की मांग की है| उनका कहना है कि जल्दी काम करना है तो हेलीकॉप्टर से देखना पड़ेगा कि कहाँ कहाँ गन्दगी है कहाँ काम करना है जल्दी देखने के लिए हेलीकॉप्टर चाहिए| कंप्यूटर बाबा ने कहा नदियों के संरक्षण को लेकर सुझावों के आधार पर काम करूँगा, अवैध रेत उत्खनन को रोकेंगे|  प��भार ग्रहण करने के बाद कम्प्यूटर बाबा ने घोषणा भी की कि नर्मदा संरक्षण के लिए नर्मदा युवा सेना का गठन किया जाएगा| 

गौरतलब है कि कम्प्यूटर बाबा को 11 मार्च को “नर्मदा, मंदाकिनी और क्षिप्रा नदी न्यास ” का अध्यक्ष बनाया गया था। लेकिन बाबा के अध्यक्ष बनने के कुछ घंटे बाद आचार संहिता लग गई थी जिस कारण बाबा पदभार ग्रहण नहीं कर पाए थे। जिसके बाद अब उन्होंने पदभार ग्रहण किया है|