भाजपा की कमल दिवाली के जवाब में कांग्रेस जलायेगी ‘बदलाव की बाती’

congrees-badlav-ki-baati

भोपाल|  हिंदुओं के महत्वपूर्ण त्यौहार दीवाली का त्यौहार धनतेरस से आरंभ होकर नरक चतुर्दशी, दीवाली, गोवर्धन पूजा और भाईदूज तक चलता है, इसकी धूम दिवाली के दस दिन बाद ग्यारस तक भी रहती है| लेकिन मध्य प्रदेश में इस बार दिवाली लम्बी चलेगी| जीहां क्यूंकि प्रदेश में विधानसभा चुनाव है और अब दिवाली भी राजनीतिक दलों के लिए ख़ास हो गई है|  भाजपा 21 नवंबर को प्रदेशभर में कमल दिवाली मनाने जा रही है। वहीं इसके जवाब में कांग्रेस भी ‘बदलाव की बाती’ जलायेगी| प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने सभी कांग्रेसजनो को पत्र लिखकर ‘बदलाव की बाती’ कार्यक्रम की सूचना दी है|

ऐसी होगी भाजपा की कमल दिवाली 

भाजपा 21 नवंबर को प्रदेशभर में कमल दिवाली मनाने जा रही है। इसके तहत कार्यकर्ताओ द्वारा घर- घर में कमलरूपी दीप जलाए जाएंगे। इसके साथ ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा लिखा हुआ एक संयुक्त पत्र भी हर एक परिवार को भेजा जाएगा, जिसमें उनसे कमल दीपावली मनाने का अग्रह किया जाएगा। कमल दीपावली मनाने के लिए बूथ स्तर पर टोली गठित की गई है। घर-घर कमल दीपक प्रज्जवलित होंगे।  21 नवंबर से शुरू होने वाले इस अभियान के तहत हर विधानसभा में करीब 44 हजार घरों तक पहुंचकर कार्यकर्ताआें को शाम 7 से 8 बजे के बीच दीप जलवाना हैं। एक कार्यकर्ता को कम से कम 25 घरों की जिम्मेदारी लेनी होगी। भाजपा का मानना है कि इस अभियान की जगमग से प्रदेश से कांग्रेस खुद विदाई हो जाएगी। इस अभियान के दौरान पार्टी जनता से समृद्ध मध्यप्रदेश के लिए आशीर्वाद भी मांगेगी। लाभार्थियों से एक निर्धारित नबंर पर मिस्ड कॉल अथवा वाट्सएप मैसेज करने का भी आग्रह  किया जाएगा।