भोपाल।
राज्यसभा (RajyaSabha) और उपचुनावों (By-Election) से पहले प्रदेश की शिवराज सरकार (Shivraj Sarkar) ने पिछली कमलनाथ सरकार (Kamalnath Sarkar) पर शिकंजा कसना शुरु कर दिया है। कृषि मंत्री कमल पटेल (Agriculture Minister Kamal Patel) ने कमलनाथ सरकार में हुए वेयर हाउस घोटाले (Ware house scam) पर जांच के निर्देश दिए है।मंत्री ने निर्देश दिए है कि कृषि और सहकारिता विभाग (Department of Agriculture and Cooperation) के अधिकारी एक टीम बनाकर इसकी जांच करें।

कृषि मंत्री कमल पटेल का आरोप है कि पूर्व की कमलनाथ सरकार में प्राइवेट वेयर हाउस को खरीद केन्द्र बनाया गया था। प्राइवेट वेयर हाउस को लाभ पहुंचाया गया है, इसमें जमकर कमीशनखोरी हुई है ।यह घोटाला अपने चहेतों के लिए तत्कालीन कमलनाथ सरकार ने किया था। मंत्री कमल पटेल ने स्पष्ट किया है कि किसानों के हक़ के पैसे पर डाका डालने वाले पूर्व कमलनाथ सरकार के राज में चले इस रैकेट में सख्त कार्रवाई की जाएगी और दोषियों को जेल पहुंचाया जाएगा।

12 बजे कृषिमंत्री ने बुलाई PC

इस विषय पर ज्यादा जानकारी के लिए कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री कमल पटेल अपने रिवेरा टाउन स्थित निवास पर आज दोपहर 12 बजे पीसी बुलाई है। इसमें वे इस घोटाले के बारे में जानकारी देंगे।