आर्थिक तंगहाली में सरकार को आबकारी विभाग देगा संजीवनी

excise-department-give-growth-to-the-government-in-economic-stagnation

भोपाल| आर्थिक संकट से जूझ रही कमलनाथ सरकार के लिए आबकारी विभाग एक राहत भरी खबर ला रहा है। अगले वित्तीय वर्ष यानी 2019- 2020 में  प्रदेश के खजाने में आबकारी विभाग 8660 करोड रुपए डालेगा जो पिछले वर्ष की तुलना में 19% ज्यादा है। 

दरअसल, विभाग में नई आबकारी वित्तीय वर्ष में अब तक 52 जिलों में से 49 जिलों की खुदरा शराब दुकानों का नवीनीकरण कर दिया है। अब केवल नीमच भिंड और निवाड़ी जिलों  मैं शराब दुकानों की नीलामी शेष रह गई है। प्रदेश के 1146 शराब समूहो में से आगामी वर्ष के लिए 946 समूह नवीनीकरण और लॉटरी के माध्यम से दिए गए हैं। अकेले नवीनीकरण के माध्यम से सरकार को 7442 करोड पर मिलेंगे जो पिछले वर्ष की तुलना में 2.24% ज्यादा है। हालांकि इस वित्तीय वर्ष में आबकारी नीति को लेकर विभाग की कार्यप्रणाली पर कई सवालिया निशान लग रहे थे लेकिन प्रमुख सचिव  वाणिज्य कर मनु श्रीवास्तव के कुशल मार्गदर्शन में विभाग ने बेहतर  कीर्तिमान  स्थापित किया है।