श्रद्धालुओं के लिए खुशखबरी, मैहर देवी के दर्शन के लिए रुकेंगी 28 ट्रेनें, सलकनपुर और पीतांबरा देवी धाम के लिए भी रुकेंगी

Maihar

Indian Railway: श्रद्धालुओं के लिए एक महत्वपूर्ण जानकारी है। रेलवे प्रशासन ने श्रद्धालुओं की सुविधा के मद्देनजर नवरात्रि पर बड़ा फैसला लिया है। मध्य प्रदेश के मंदिरों तक आसानी से पहुंचने के लिए रेलवे प्रशासन ने नजदीकी रेलवे स्टेशन पर लंबी दूरी के ट्रेनों को भी रुकने का आदेश जारी कर दिया है। इससे श्रद्धालुओं को मंदिरों में पहुंचने में आसानी होगी। रेलवे ने मैहर देवी के दर्शन के लिए मैहर स्टेशन पर 28 ट्रेनों को हॉल्ट का आदेश दिया है। साथ ही पीतांबरा देवी के लिए दतिया स्टेशन और सलकनपुर धाम के लिए नर्मदापुरम स्टेशन पर ट्रेनों को हॉल्ट दिया है।

मैहर स्टेशन पर ये मुख्य ट्रेनें रुकेंगी

मैहर देवी के दर्शन के लिए कई राज्यों से श्रद्धालू आते हैं। जिसको लेकर रेलवे ने बड़ा फैसला लिया है। मैहर स्टेशन पर अब 28 ट्रेनों को हॉल्ट दिया जाएगा। जिनमें मुख्य ट्रेने ये हैं-

लोकमान्य तिलक टर्मिनस- गोरखपुर एक्सप्रेस

वलसाड-मुजफ्फरपुर एक्सप्रेस

कोल्हापुर-धनबाद एक्सप्रेस

पूर्णा-पटना एक्सप्रेस

लोकमान्य टर्मिनस- अयोध्या एक्सप्रेस

लोकमान्य तिलक टर्मिनस- रांची एक्सप्रेस

लोकमान्य तिलक टर्मिनस- गुवाहाटी एक्सप्रेस

सूरत-छपरा सूरत एक्सप्रेस

पूणे-बनारस पूणे एक्सप्रेस

लोकमान्य तिलक-छपरा एक्सप्रेस

चेन्नई-छपरा चेन्नई एक्सप्रेस

लोकमान्य तिलक टर्मिनस-रक्सौल एक्सप्रेस

पूणे-गोरखपुर पूणे एक्सप्रेस

बांद्रा टर्मिनस-पटना बांद्रा टर्मिनस एक्सप्रेस

पीतांबरा देवी मंदिर के लिए दतिया स्टेशन पर ये ट्रेनें रुकेंगी

पीतांबरा देवी के दर्शन के लिए भी रेलवे ने नजदीकी रेलवे स्टेशन दतिया पर ट्रेनों को हॉल्ट दिया है। दतिया रेलवे स्टेशन पर दिल्ली और मुंबई जाने वाली ट्रेनों को पांच मिनट के लिए हॉल्ट दिया गया है। आपको बता दें दतिया रेलवे स्टेशन से पीतांबरा देवी के मंदिर की दूरी 40 किलोमीटर है।

सलकनपुर धाम के लिए भी रुकेंगी ट्रेनें

रेलवे प्रशासन ने नर्मदापुरम स्टेशन पर भोपाल इटारसी रुट की सभी ट्रेनों को दो मिनट के लिए हॉल्ट दिया है। आपको बता दें नर्मदापुरम से सलकनपुर धाम की दूरी 40 किलोमीटर की है।

 


About Author
Shashank Baranwal

Shashank Baranwal

पत्रकारिता उन चुनिंदा पेशों में से है जो समाज को सार्थक रूप देने में सक्षम है। पत्रकार जितना ज्यादा अपने काम के प्रति ईमानदार होगा पत्रकारिता उतनी ही ज्यादा प्रखर और प्रभावकारी होगी। पत्रकारिता एक ऐसा क्षेत्र है जिसके जरिये हम मज़लूमों, शोषितों या वो लोग जो हाशिये पर है उनकी आवाज आसानी से उठा सकते हैं। पत्रकार समाज मे उतनी ही अहम भूमिका निभाता है जितना एक साहित्यकार, समाज विचारक। ये तीनों ही पुराने पूर्वाग्रह को तोड़ते हैं और अवचेतन समाज में चेतना जागृत करने का काम करते हैं। मशहूर शायर अकबर इलाहाबादी ने अपने इस शेर में बहुत सही तरीके से पत्रकारिता की भूमिका की बात कही है– खींचो न कमानों को न तलवार निकालो जब तोप मुक़ाबिल हो तो अख़बार निकालो मैं भी एक कलम का सिपाही हूँ और पत्रकारिता से जुड़ा हुआ हूँ। मुझे साहित्य में भी रुचि है । मैं एक समतामूलक समाज बनाने के लिये तत्पर हूँ।

Other Latest News